Home देश भले ही आपकी कंपनी खरबों की होगी, लेकिन लोगों के लिए निजता का मूल्य पैसों से ज्यादा : SC

भले ही आपकी कंपनी खरबों की होगी, लेकिन लोगों के लिए निजता का मूल्य पैसों से ज्यादा : SC

2 second read
0
8

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को मैसेजिंग ऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर केंद्र और WhatsApp को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। दरअसल WhatsApp की नई पॉलिसी को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया गया था। जिसे लेकर सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस एसए बोबडे ने टिप्पणी कर कहा कि भले ही आपकी कंपनी खरबों की होगी, लेकिन लेकिन लोगों के लिए निजता का मूल्य पैसों से ज्यादा है।

कोर्ट ने माना कि लोगों में गोपनीयता के बारे में गंभीर चिंताएं हैं और नागरिकों की गोपनीयता पैसे से ज्यादा महत्वपूर्ण है। कोर्ट ने कहा कि लोगों को आशंका है कि वे अपनी गोपनीयता खो देंगे और उनकी सुरक्षा करना हमारा कर्तव्य है।

इस दौरान WhatsApp ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि यूरोपीय देशों को छोड़कर सभी देशों में एक ही गोपनीयता नीति लागू है। अगर भारत में भी वैसे ही कानून हों तो हम उनका भी पालन करेंगे। मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने 2017 की लंबित याचिका में कर्मन्या सिंह सरीन द्वारा दायर एक अंतरिम आवेदन पर सरकार और फेसबुक के स्वामित्व वाले ऐप Whatsapp को नोटिस जारी किया।

Load More In देश
Comments are closed.