Home Madhya Pradesh कोविड संक्रमित गर्भवती पत्नी के लिए शख्स ने हाईजैक कर ली ऑक्सीजन वाली एम्बुलेंस, फिर हुआ ये…

कोविड संक्रमित गर्भवती पत्नी के लिए शख्स ने हाईजैक कर ली ऑक्सीजन वाली एम्बुलेंस, फिर हुआ ये…

0 second read
0
19

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

विदिशा: कोरोना के दूसरे लहर का कहर लगातार जारी है, अपनों को खोते-खोते लोग इतना सहम गये हैं कि वो कुछ भी करने को तैयार हो जा रहें हैं। मध्य प्रदेश के विदिशा से एक ऐसा मामला सामने आ रहा है, जिससे आपको वास्तविक स्थिति का अंदाजा हो जायेगा, इसके साथ ही आप बिना जरुरी काम के घर से निकलने के पहले इस वाक्या को याद जरुर करेंगे। यहां एक युवक ने अपनी गर्भवती पत्नी की हालत बिगड़ते देख एंबुलेंस को बुलाया, एंबुलेंस में ऑक्सीजन थी, इसके बाद उसने एंबुलेंस को ही हाईजैक कर लिया।

आपको बता दें कि यह मामला मध्य प्रदेश के विदिशा जिले के पुतली घाट क्षेत्र के मुखर्जी नगर में स्थित कुशवाहा परिवार में उस वक्त हुआ, जब 4 दिन पहले कोरोना पॉजिटिव गर्भवती महिला को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी। उसके पति ने ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कर ली थी लेकिन बीती 11:00 बजे रात्रि से वह लगातार गुहार लगा रहा था कि घर पर एंबुलेंस आ जाए तो उसे हॉस्पिटल में एडमिट कर दे।

उसे यह भी पता था कि अब हॉस्पिटल में नए मरीज को नहीं ले रहे और जब 108 एंबुलेंस उसके घर पहुंची तो उसने उस एंबुलेंस को ही बंधक बना लिया। लगभग 2 घंटे बंधक बनाने के बाद वहां पुलिस पहुंची और काफी मिन्नतें की। काफी देर बाद वह अस्पतला में एडमिड करना की शर्त पर एंबुलेंस को छोड़ा। उसी एंबुलेंस से उसकी पत्नी को अस्पताल में लाकर उसको एडमिट कराया गया।

स्थिति को देखते हुए एंबुलेंस के अटेंडर ने डायल हंड्रेड को सूचना दे दी, सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी देर तक उसको समझाया जिसके बाद उसने एंबुलेंस को छोड़ा। सीएसपी की मानें तो उन्होने बताय कि हमारे पुलिसकर्मियों ने उन्हें समझाइश दी और बाकायदा उन्हें हॉस्पिटल लाकर एडमिट भी किया।

गर्भवती महिला 4 दिन से कोरोना पॉजिटिव थी, उसको तत्काल इलाज की जरुरत थी। उसका पति सुनील शुक्रवार रात्रि 11:00 बजे से मेडिकल कॉलेज को लगातार फोन लगा रहा था कि 108 एंबुलेंस भेज दी जाए. पूरी रात्रि में एंबुलेंस नहीं आई बल्कि 108 एंबुलेंस दूसरे दिन 9:30 बजे सुनील कुशवाहा के घर पहुंची।

Load More In Madhya Pradesh
Comments are closed.