Home Madhya Pradesh “मैं लॉकडाउन नहीं चाहता था लेकिन मौजूदा हालातों को देखते हुए सरकार को ये फैसला लेना पड़ा”: CM शिवराज

“मैं लॉकडाउन नहीं चाहता था लेकिन मौजूदा हालातों को देखते हुए सरकार को ये फैसला लेना पड़ा”: CM शिवराज

0 second read
0
19

नई दिल्ली : कोरोना के लगातार बढ़ रहे आंकड़ों के बीच रायपुर के बाद अब मध्य प्रदेश सरकार ने सभी शहरी क्षेत्रों में पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए ही शहरी क्षेत्रों में दो दिन का लॉकडाउन लगाया गया है। उन्होंने कहा कि वे लॉकडाउन नहीं चाहते थे लेकिन मौजूदा हालातों को देखते हुए सरकार को ये फैसला लेना पड़ा है। आपको बता दें कि यह लॉकडाउन शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लगाया गया है।

सीएम ने ये भी कहा कि बड़े शहरों में कंटेनमेंट जोन भी बनाए जाएंगे। इन कंटेनमेंट जोनों में भी लॉकडाउन लगाया जाएगा। वहीं सीएम ने ये भी कहा कि राज्य में अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या को बढ़ाकर 1 लाख किया जाएगा। गौरतलब है कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से पीछले 48 घंटों में सागर जिले में 4 और खरगोन में एक कोरोना मरीज की मौत हो गई है। जिसके बाद प्रदेश सरकार ने ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने की खातिर भिलाई स्टील प्लांट से करार किया है। जहां से अब प्रतिदिन 60 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाएगी।

सीएम ने कहा कि हमने प्रदेश के प्रत्‍येक जिले में कम से कम एक कोविड केयर सेन्‍टर प्रारंभ करने का निर्णय भी लिया है। यहं उन मरीजों को क्वारंटिन पर रखा जायेगा, जिनके घर पर क्वारंटिन के लिए पर्याप्‍त स्‍थान उपलब्‍ध नहीं है। उन्होंने कहा कि निजी अस्पतालों में भी कोरोना मरीजों के लिए नि:शुल्‍क इलाज के लिए कुछ बिस्‍तर आरक्षित किए गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि, ‘‘बाकी जिन शहरों में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ी है, वहां आपदा प्रबंधन समिति बैठक करके इसे रोकने के लिए आवश्यक एवं उपयुक्त फैसला करेंगी।

आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए एमपी सरकार ने सभी सरकारी कार्यालयों को सप्ताह में पांच दिन खोलने का आदेश जारी  किया है। सरकारी दफ्तर सुबह के 10 बजे से शाम 6 बजे तक खोले जाएंगें। यानी इस आदेश के बाद शनिवार और रविवार को सरकारी दफ्तर बंद रहेंगे।

वहीं राज्य में कोरोना की भयंकर स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय ने लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से हिंदी में ट्वीट भी किया है। ट्वीट में लिखा गया है कि, “महामारी को देखते हुए, फेस मास्क का उपयोग अवश्य करें, सामाजिक दूरी बनाए रखें और हाथों को बार-बार साफ करें।

बता दें कि इससे पहले छिंदवाड़ा, शाजापुर समेत कई अन्य जगह़ों पर लॉकडाउन लगाया गया है। मध्य प्रदेश के सम्पूर्ण छिंदवाड़ा जिले में 8 अप्रैल की रात 8 बजे से आगामी 7 दिन तक संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा। वहीं लॉकडाउन के दौरान वैक्सीनेशन का कार्यक्रम चलता रहेगा।

अगर हम मध्य प्रदेश में कोरोना केसों की बात करें तो, बुधवार को कोरोना संक्रमण के 4,043 नए मामले दर्ज किये गये हैं। इन्हें मिलाकर प्रदेश में अब तक 3,18,014 लोगों को यह महामारी अपनी चपेट में ले चुकी है, जिनमें से अब तक 4,086 लोगों की मौत हो चुकी है।

Load More In Madhya Pradesh
Comments are closed.