Home देश कृषि बिल को लेकर भारत बंद : आम आदमी पार्टी ने सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

कृषि बिल को लेकर भारत बंद : आम आदमी पार्टी ने सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

40 second read
0
9

कृषि बिल को लेकर देश भर के किसान और विपक्ष प्रदर्शन कर रहे है। कई किसान संगठनों ने आज राष्ट्रव्यापी भारत बंद का ऐलान किया गया है। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति, अखिल भारतीय किसान महासंघ और भारतीय किसान यूनियन द्वारा देशव्यापी भारत बंद का ऐलान किया गया है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी भारत बंद का समर्थन दिया है। राहुल गांधी ने मोदी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा है कि नए कृषि कानून हमारे किसानों को गुलाम बनाएंगे।

राहुल गांधी ने मोदी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा है कि नए कृषि कानून हमारे किसानों को गुलाम बनाएंगे। राहुल ने कहा कि एक त्रुटिपूर्ण जीएसटी ने एमएसएमई को नष्ट कर दिया।

नए कृषि बिल को लेकर विपक्ष सरकार से लगतार सवाल कर रही है। इसको लेकर आप के नेता संजय सिंह ने एक वीडियो शेयर करते हुए कहा है कि क्या है भाजपा का काला कानून और किस तरह मोदी सरकार ने किसानों की पीठ और पेट पर छुरा घोंपकर अपने मित्रों अडानी-अम्बानी को फायदा पहुंचाया है।

जिसके बाद आम आदमी पार्टी ने राघव चड्डा का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि देश के गरीब,दबे-कुचले किसान को भाजपा सरकार अंग्रेजी इश्तिहार के जरिए MSP और PDS समझाना चाहती है। कौन-सा किसान सुबह काॅफी के साथ अंग्रेजी इश्तिहार से ये सब समझेगा?

इसके बाद आम आदमी पार्टी ने नेता भगवत मान का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि इस आपदा में अन्नदाता ने देश को भुखमरी से बचाया है और भाजपा सरकार उन्ही को पूंजीपतियों के हाथों बेच रही है। ये समय देश के अन्नदाता के साथ खड़े होने का है।

इसके बाद आम आदमी पार्टी ने नेता भगवत मान अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया जिसमे उन्होंने लिखा जब भी क़ोई सरकार कोई नया क़ानून बनाती है तो अकसर लोग ख़ुशी मनाते हैं परंतु इस सरकार के हर क़ानून के बाद लोग विरोध करते हैं , धरने हड़ताल करते हैं ..नोटबंदी, GST, NRC, CAA, लेबर क़ानून और खेती बिल इसकी उदाहरण हैं..तो क़ानून बनाने से पहले सरकार किसकी सलाह लेती है ?

Load More In देश
Comments are closed.