1. हिन्दी समाचार
  2. टैकनोलजी
  3. पुराने एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में अगले साल ब्राउजिंग हो जाएगी बंद? जानिए क्या है पूरी बात

पुराने एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में अगले साल ब्राउजिंग हो जाएगी बंद? जानिए क्या है पूरी बात

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

जैसे जैसे एंड्रॉयड स्मार्टफ़ोन पुराने होते जाते हैं, धीरे धीरे इनमें सपोर्ट भी मिलने बंद होते जाते हैं. फोन अगर काफ़ी पुराना हो गया है तो इसमें ज़रूरी चीजें भी काम करनी बंद कर देती हैं।

ऐसी ही एक रिपोर्ट आ रही है कि अगर आपके पास Android 7.1.1 Nougat से पहले का वर्जन है तो इसमें ब्राउज़िंग करने में प्रॉब्लम होगी. वेबसाइट लोड नहीं होंगे और एरर भी मिल सकता है।

Android Police की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ Android 7.1.1 Nougat से पुराने वर्जन पर चलने वाले एंड्रॉयड स्मार्टफ़ोन में सिक्योर वेबसाइट्स नहीं खुल पाएँगे।

मतलब ये है कि अगर सिक्योर वेबसाइट्स नहीं खुल पाएंगी यानी एक तरह से ब्राउज़िंग ही नहीं कर पाएँगे।

वेबसाइट सर्टिफिकेशन अथॉरिटी Lets Encrypt के मुताबिक अगले साल से पुराने एंड्रॉयड स्मार्टफ़ोन में HTTPS वाली सिक्योर वेबसाइट या तो खुलनी बंद हो जाएगी या पूरा कंटेंट लोड नहीं होगा. लेकिन ऐसा क्यों?

Lets Encrypt सर्टिफिकेटशन अथॉरिटी है जो इंटरनेट सिक्योरिटी रिसर्च ग्रुप यानी ISRG के अंतर्गत काम करती है।

ISRG वेबसाइट्स को ट्रांसपेरेंट लेयर सिक्योरिटी एन्क्रिप्शन यानी TLS प्रोवाइड करती है. दुनिया भर की 225 मिलियन वेबसाइट्स Lets Encrypt का सर्टिफिकेशन यूज करती हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...