Home कृषि मंत्र माननीय नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा कर रहे मोहम्मद शादाब, कई युवाओं को दे रहे रोजगार

माननीय नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा कर रहे मोहम्मद शादाब, कई युवाओं को दे रहे रोजगार

2 second read
0
10

देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा करने के लिए युवा लगातार सामने आ रहे हैं। नकुड विधानसभा के गांव खेड़ा अफगान के एक होनहार छात्र मोहम्मद शादाब ने अपने पैरों पर खड़ा होकर प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा करने में अपना सहयोग दिया है।

मोहम्मद शादाब अभी केवल 23 वर्ष के हैं। जनपद की ग्लोकल यूनिवर्सिटी मिर्जापुर पोल में बी.यू.एम.एस .फाइनल ईयर के स्टूडेंट हैं।शादाब के परिजनों के पास अच्छी खेती बाड़ी है लेकिन खेती से किसी प्रकार का कोई भी मुनाफा ना होने के कारण शादाब के परिजनों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई और शादाब को अपनी मेडिकल की पढ़ाई पूरी करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ गया।

मोहम्मद शादाब ने इस समस्या को दूर करने के लिए अपनी 3 बीघा जमीन में वर्मी कंपोस्ट खाद तैयार करने के लिए एक प्लांट लगाया। वर्मी कंपोस्ट खाद गोबर और केंचुए से तैयार किया जाता है।इस प्लांट को लगे हुए अब 1 साल का समय गुजर चुका है।

अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए मोहम्मद शादाब को अब अपने परिजनों के सामने हाथ नहीं फैलाने पड रहे हैं।शादाब अब 20 से 30 हजार रुपये प्रति महीना कमा रहा है।इसके साथ साथ 10 से 15 बेरोजगार लोगो को रोजगार देने का भी काम कर रहा है।

शादाब के प्लांट से तैयार हुए वर्मी कंपोस्ट खाद की सप्लाई हरियाणा-पंजाब-हिमाचल प्रदेश- उत्तराखंड में है।यह वर्मी कंपोस्ट खाद जैविक विधि से फसल तैयार करने में कारगर साबित होता है।

मोहम्मद शादाब ने अपने दृढ़ निश्चय से आत्मनिर्भर बन मुनाफा कमाने का काम तो किया ही है इसके साथ-साथ बेरोजगारों को रोजगार दिया है तथा देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को भी पूरा करने में अपना सहयोग दिया है।

Load More In कृषि मंत्र
Comments are closed.