1. हिन्दी समाचार
  2. ताजा खबर
  3. VIDEO: नाथूराम गोडसे को नमस्कार, गांधी को गाली! धर्म संसद में संत ने दिया विवादित बयान…

VIDEO: नाथूराम गोडसे को नमस्कार, गांधी को गाली! धर्म संसद में संत ने दिया विवादित बयान…

Religious leader Kalicharan Maharaj booked for derogatory remarks against Mahatma Gandhi: Kalicharan Maharaj ने कहा कि Police हमें बताती है कि Muslim बहुल इलाकों से भगवा जुलूस न निकालें। यह Police की गलती नहीं है। Police प्रशासन की गुलाम है जो Government की गुलाम है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली: इन दिनों देश के कई हिस्सों में धर्म संसद के नाम पर समारोह आयोजन किया जा रहे है। अब यहीं धर्म संसद विवादों को घेरे में आ गया है। दरअसल, यहां पर मौजूद साधु संत जो भाषण और जिस शब्द का इस्तमाल कर रहे है वो बेहद ही अपमानजनक है। वहीं बीते दिन छत्तीसगढ़ पुलिस (CHHATTISGARH POLICE) ने महात्मा गांधी (MAHATAMA GANDHI) के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने और उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे (NATHURAM GODSE) की प्रशंसा करने के बाद वर्गों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने के आरोप में हिंदू धर्मगुरु (HINDU DHARAMGURU) कालीचरण महाराज (KALICHARAN MAHARAJ) के खिलाफ अब FIR दर्ज कर ली है।

रायपुर (RAIPUR) के रावण भाटा मैदान में रविवार शाम दो दिवसीय धर्म संसद के समापन के दौरान कालीचरण (KALICHARAN) ने राष्ट्रपिता के खिलाफ अपशब्द का प्रयोग किया था और लोगों से धर्म की रक्षा के लिए एक कट्टर हिंदू नेता को सरकार के मुखिया के रूप में चुनने के लिए कहा था। उनके बयान की राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस के नेताओं ने आलोचना की थी।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “कांग्रेस नेता प्रमोद दुबे (Pramod Dubey) की शिकायत के आधार पर, कालीचरण के खिलाफ रविवार रात टिकरापारा पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (2) (वर्गों के बीच शत्रुता, घृणा या दुर्भावना पैदा करने या बढ़ावा देने वाले बयान) और 294 (अश्लील कृत्य) के तहत मामला दर्ज किया गया था। उन्होंने कहा कि मामले में आगे की जांच जारी है।

यह भी पढ़ें: BJP को लगने वाला तगड़ा झटका! TMC नेता सुप्रियो ने किया है ये बड़ा दाव…

यहां कार्यक्रम के दौरान कालीचरण (Kalicharan) ने कहा था, ”इस्लाम का लक्ष्य राजनीति के जरिए राष्ट्र पर कब्जा करना है। हमारी आंखों के सामने उन्होंने 1947 में (विभाजन का जिक्र करते हुए) कब्जा कर लिया था। उन्होंने पहले ईरान, इराक और अफगानिस्तान (Afghanistan) पर कब्जा कर लिया था। उन्होंने राजनीति के जरिए बांग्लादेश (Bangladesh) और पाकिस्तान (Pakistan) पर कब्जा किया। मैं नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) को सलाम करता हूं कि उन्होंने गांधी (Gandhi) की हत्या की।”

राज्य कांग्रेस की संचार शाखा के प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने धर्मगुरु की टिप्पणी की निंदा की। उन्होंने कहा, “महात्मा गांधी (Mahatama Gandhi) के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग बेहद आपत्तिजनक है। कालीचरण (Kalicharan) को पहले यह साबित करना चाहिए कि वह एक संत हैं।”

शिव तांडव स्त्रोत से चर्चा में आए

कालीचरण महाराष्ट्र अकोला में हर साल कांवड़ यात्रा में हिस्सा लेते हैं। शिवभक्त (Shivbhakt) कालीचरण महाराज (Kalicharan maharaj) अपने रूप और श्रृंगार को लेकर चर्चा में रहते हैं। कालीचरण महाराज (Kalicharan Maharaj) पिछले साल उस समय चर्चा में आए थे जब उन्होंने मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में शिव तांडव (Shiv Tandav) स्त्रोत गाया था। उनका ये वीडियो इंटरनेट (Internet) पर वायरल (Viral) हो गया था।

यह भी पढ़ें: Salman Khan को सांप ने काटा, कहा- फार्म हाउस में जहरीले सांप ने 3 बार काटा, 6 घंटे अस्पताल में रहना पड़ा; अब ठीक हूं

Haridwar धर्म संसद में हिंदुओं से हथियार उठाने की अपील

उत्तराखंड (Uttarakhand) के हरिद्वार (Haridwar) में हुई धर्म संसद (Dharam Sansad) में भड़काऊ भाषण का एक वीडियो सामने आने के बाद से बवाल मचा हुआ है। दरअसल, इस धर्म संसद (Dharam Sansad) में एक वक्ता ने विवादित भाषण देते हुए कहा था कि धर्म (Dharam) की रक्षा के लिए हिंदुओं (Hindu) को हथियार उठाने की जरूरत है। वक्ता ने कहा था कि किसी भी हालत में देश में मुस्लिम प्रधानमंत्री (Muslim Prime Minister) न बने। वक्ता ने कहा था कि मुस्लिम आबादी (Muslim Population ) बढ़ने पर रोक लगानी होगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...