Home खेल वॉर्नर ने बताया बल्लेबाजों की नाकामी का रहस्य, पढ़ें

वॉर्नर ने बताया बल्लेबाजों की नाकामी का रहस्य, पढ़ें

0 second read
0
6

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने बताया है कि दोनों ही टीमों के सलामी बल्लेबाज का प्रदर्शन क्यों खराब रहा है। साथ ही उन्होंने अपनी बल्लेबाजी को लेकर भी एक दावा किया है। डेविड वॉर्नर को भारत के खिलाफ खेले जाने वाले तीसरे टेस्ट के लिए टीम में शामिल किया गया है, लेकिन अभी यह साफ नहीं है कि वह तीसरा टेस्ट खेलेंगे या नहीं।

डेविड वॉर्नर ने कहा – “अगर आप उन्हें हावी होने का मौका देंगे और अगर आप उन पर दबाव नहीं बनाएंगे तो फिर आखिरी के दो टेस्ट मैचों में रन करना मुश्किल हो जाएगा। दोनों टीमों के शीर्ष क्रम की तरफ से गेंदबाजों पर हावी होने की तीव्र इच्छा नहीं दिखाई गई। ”

वार्नर ने कहा – ” दोनों गेंदबाजी आक्रमणों ने अभी तक अच्छी गेंदबाजी की है, इसलिए बल्लेबाजों ने सोचा कि ठीक है समय लेकर खेलते हैं और इसलिए गेंदबाज हावी हो गए। अगर अटैक अच्छा कर रहा है तो आपको कहीं न कहीं अपने शॉट खेलने होते हैं। चाहे आप आउट हों या रन बनाए। मैं इसी तरह से खेलता हूं और आक्रमण करना चाहता हूं। ”

आपको बता दें कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए दोनों टेस्ट मैचों में दोनों ही टीमों के सलामी बल्लेबाज अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया टीम की तरफ से पहले टेस्ट की पहली पारी में जो बर्न्‍स और मैथ्यू वेड की सलामी जोड़ी ने 14 ओवरों में सिर्फ 16 रन जोड़े थे। दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में दोनों ने चार ओवरों में सिर्फ 10 रन जोड़े थे जबकि दूसरी पारी में तीन ओवरों में सिर्फ चार रन जोड़े थे।

इतना ही नहीं भारतीय टीम का भी यही हाल रहा है। मयंक अग्रवाल दोनों मैचों में बड़ी पारी नहीं खेल पाए। भारत के लिए पहले विकेट के लिए इस सीरीज में सबसे बड़ी साझेदारी 16 रनों की है।

Load More In खेल
Comments are closed.