Home उत्तर प्रदेश उन्नाव : पत्रकार का शव संदिग्ध परिस्थितियों में रेलवे लाइन पर पड़ा मिला

उन्नाव : पत्रकार का शव संदिग्ध परिस्थितियों में रेलवे लाइन पर पड़ा मिला

0 second read
0
3

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले मे जहां एक पत्रकार का शव संदिग्ध परिस्थितियों में रेलवे लाइन पर पड़ा मिला है। पत्रकार का शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया। वहीं, पत्रकार के परिजनों ने हत्या का आरोप उन्नाव पुलिस पर लगाया है।

पत्रकार सूरज पांडेय की मां ने एसआई सुनीता चौरसिया, उसके चालक अमर सिंह और अन्य अज्ञात के खिलाफ आईपीसी की धारा 302/120 बी/ 506 के तहत केस दर्ज कराया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 12 नवंबर को पत्रकार सूरज पांडेय का शव उन्नाव सदर कोतवाली क्षेत्र के शराब मिल के पीछे कानपुर-लखनऊ रेलवे लाइन पर पड़ा मिला। पत्रकार की संदिग्ध मौत की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। वहीं, घटनास्थल का मौका मुआयना किया।

उधर, सूरज पांडेय की मां लक्ष्मी पांडे निवासी एबी नगर ने बताया कि पत्रकारिता के दौरान उनके पुत्र की मित्रता उप निरीक्षक सुनीता चौरसिया के साथ हो गई। सुनीता चौरसिया कई बार उनके घर भी आ चुकी हैं।

बीते 11 नवंबर सुनीता चौरसिया के ड्राइवर अमर सिंह ने फोन पर सुनीता चौरसिया का नाम लेकर बुरा भला कहा और देख लेने की धमकी दी। 12 नवंबर को सूरज को फोन कर बुलाया गया। इसके बाद उसकी कोई जानकारी नहीं मिली। शिकायत के अनुसार, सूरज के घर से निकलने के बाद उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया।

लगभग 3:00 बजे कोतवाली पुलिस ने सूरज का शव रेलवे लाइन के किनारे मिलने की जानकारी दी। तहरीर में सुनीता चौरसिया, अमर सिंह और उसके साथियों पर षड्यंत्र रचकर पत्रकार की हत्या कर शव को रेलवे लाइन के किनारे फेंकने का आरोप लगाया है।

वहीं पूरे मामले में सीओ सिटी गौरव त्रिपाठी का कहना है कि एसआई सुनीता चौरसिया और सिपाही अमर सिंह पर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है और मामले में जांच के बाद विधिक कार्रवाई की जा रही है।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.