1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. Tokyo Olympics: मौसम ने बिगाड़ा अदिति का खेल! मेडल जीतने से रह गई एक कदम दूर, PM Modi बोले- ‘आपने शानदार टैलेंट दिखाया’

Tokyo Olympics: मौसम ने बिगाड़ा अदिति का खेल! मेडल जीतने से रह गई एक कदम दूर, PM Modi बोले- ‘आपने शानदार टैलेंट दिखाया’

भारत की स्टार गोल्फर अदिति अशोक टोक्यो ओलंपिक में मेडल जीतने से चूक गई, जिसमें सबसे बड़ा व्यवधान मौसम ने दी। आपको बता दें कि बिगड़ते मौसम के कारण अदिति का खेल बीच में कुछ देर के लिए रोक दिया गया था। हालांकि दुबारा खेल शुरु होने पर दूसरे स्थान पर रहीं अदिति चौथे स्थान पर खिसक गई। इसके बावजूद उन्होंने शानदार खेल दिखाते हुए इतिहास रच दिया।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : भारत की स्टार गोल्फर अदिति अशोक टोक्यो ओलंपिक में मेडल जीतने से चूक गई, जिसमें सबसे बड़ा व्यवधान मौसम ने दी। आपको बता दें कि बिगड़ते मौसम के कारण अदिति का खेल बीच में कुछ देर के लिए रोक दिया गया था। हालांकि दुबारा खेल शुरु होने पर दूसरे स्थान पर रहीं अदिति चौथे स्थान पर खिसक गई। इसके बावजूद उन्होंने शानदार खेल दिखाते हुए इतिहास रच दिया।

इवेंट खत्म होने के बाद अदिति अशोक ने अपने दिल का दर्द का बयां किया है। अदिति अशोक ने कहा कि, ”मैंने मेडल के लिए अपनी ओर से पूरी कोशिश की थी। लेकिन इसके बावजूद भी मेडल नहीं मिला है। सारी कोशिश करने के बावजूद मेडल नहीं मिलने पर बुरा लगता है।”

 

अदिति अशोक का मानना है कि चौथे स्थान पर फिनिश करने के कोई मायने नहीं है। स्टार गोल्फर ने कहा कि, ”चौथे या पांचवें स्थान पर रहना ज्यादा मायने नहीं रखता है। ओलंपिक में हर खिलाड़ी की कोशिश मेडल जीतने की होती है और अंत में वही आपके लिए सबसे ज्यादा मायने रखता है।”

अदिति ने हालांकि यह भी कहा कि टॉप फाइव में रहने वाले खिलाड़ी मेडल जीतने की क्षमता रखते हैं। उन्होंने कहा कि, ”टॉप 10 या टॉप फाइव में रहने वाले खिलाड़ी से आप मेडल की उम्मीद रख सकते हैं। टॉप फाइव में रहने वाला खिलाड़ी मेडल जीतने की पूरी क्षमता रखता है।”

 

अमेरिका की गोल्फर को मिला गोल्ड

आपको बता दें कि अमेरिका (US) की नैली कोरडा (Nelly Korda) पहले नंबर पर रहीं और गोल्ड मेडल हासिल किया, दूसरे नंबर पर  जापान (Japan) की मोने इनामी (Mone Inami) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) की लीडिया को (Lydia Ko) के बीच दूसरे नंबर के लिए टाई हो गया।

भारतीय गोल्फर अदिति अशोक (Aditi Ashok) का यह दूसरा ओलंपिक है। रियो डि जनेरियो 2016 रियो डि जनेरियो ओलंपिक (Rio de Janeiro 2016) में वो 41वें स्थान पर थीं। ऐसे में उन्होंने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में चौथे स्थान पर रहकर इतिहास रच दिया, वो महज एक शॉट से मेडल से चूक गईं, वहीं भारत की दीक्षा डागर (Diksha Dagar) को 50वीं पोजीशन मिली।

ऑस्ट्रेलिया की गोल्फर से पिछड़ गईं अदिति

चौथे राउंड के दौरान खराब मौसम का दखल रहा। इस दौर में अदिति ने 3 डर 68 का स्कोर करते हुए चौथे स्थान पर रहीं आखिरी दौर में उन्होंने पांचवें, छठे, आठवें, 13वें और 14वें होल पर बर्डी लगाया और नौवें और 11वें होल पर बोगी किए। अदिति ने शनिवार सुबह दूसरे नंबर से शुरुआत की थी लेकिन वो पिछड़ गई। अदिति पूरे समय मेडल की दौड़ में थी लेकिन 2 बोगी से वो लीडिया को (Lydia Ko) से पीछे रह गई जिन्होंने आखिरी दौर में 9 बर्डी लगाए।

 

पीएम मोदी ने बढ़ाया हौसला

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्विटर के जरिए अदिति का हौसला बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि, ‘बहुत बढ़ियां खेलीं अदिति अशोक, आपने टोक्यो ओलंपिक के दौरान जबर्दस्त कौशल और संकल्प दिखाया है। कम अंतर से मेडल जीतने से चूक गईं, लेकिन आप किसी भी भारतीय से आगे निकल गईं और आगे के लिए लौ जला दी। भविष्य के लिए आपको शुभकामनाएं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...