Home विदेश बांग्लादेश : हथियारों से लैस कट्टरपंथी गुट हिफाजत-ए-इस्‍लाम के हजारों समर्थकों ने किया हिंदुओं के गांव पर हमला, 70-80 घरों में तोड़फोड़

बांग्लादेश : हथियारों से लैस कट्टरपंथी गुट हिफाजत-ए-इस्‍लाम के हजारों समर्थकों ने किया हिंदुओं के गांव पर हमला, 70-80 घरों में तोड़फोड़

1 second read
0
299

नई दिल्ली : बांग्‍लादेश में हथियारों से लैस कट्टरपंथी गुट हिफाजत-ए-इस्‍लाम के हजारों समर्थकों ने बुधवार को हिंदुओं के गांव पर हमला कर दिया और करीब 80 घरों को नष्‍ट कर दिया। जिससे बांग्लादेश में तनाव का माहौल है। बताया जा रहा है कि एक युवक ने फेसबुक के जरिये बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की प्रतिमा लगाने का विरोध करने पर इस कट्टरपंथी गुट के संयुक्‍त सचिव मौलाना मुफ्ती मामूनूल के भाषण की आलोचना की थी। जिसके बाद हजारों की संख्‍या में कट्टरपंथी मुस्लिमों ने बुधवार को शल्‍ला उपजिला के एक हिंदू गांव नौगांव में हमला कर दिया।

आपको बता दें कि इस हिंसा को रोकने के लिए बांग्लादेश पुलिस ने पहले ही युवक को गिरफ्तार कर लिया था। इसी बीच हिफाजत नेता मामूनूल हक के समर्थन में काशीपुर, नचनी, चांदीपुर और अन्‍य मुस्लिम बहुल गांवों के हजारों लोग सुबह नौ बजे नौगांव पहुंच गए और हिंदुओं के घरों पर हमला कर दिया। पुलिस ने बताया है कि इस हमले में तकरीबन 70 से 80 घरों में तोड़फोड़ की गई है।

हबीबपुर यूनियन के चेयरमैन विवेकानंद मजूमदार बाकुल ने कहा है कि गांव के कई घरों पर हमला हुआ है। हमले के डर से कई हिंदू अपनी जान बचाने के लिए घर छोड़कर चले गए थे। इस अवसर का लाभ उठाते हुए हिफाजत के लोगों ने गांव में हमला किया और कई घरों को लूट लिया। सूचना मिलने के बाद मौके पर भारी संख्‍या में पुलिसबल की तैनाती कर दी गई है।

शल्‍ला पुलिस स्‍टेशन के अधिकारी नजमूल हक ने कहा कि मौके पर पुलिसबल को तैनात किया गया है। उन्‍होंने कहा कि मामला अब शांत है और उपजिला चेयरमैन अल अमीन तथा अन्‍य प्रतिनिधियों ने इस पूरे मामले में मध्‍यस्‍थता की है। मौके पर आलाधिकारी भी पहुंचे हैं। हक ने कहा कि इस इलाके से भागे ज्‍यादातर लोग अपने घर लौट आए हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी हिंदू युवक को अरेस्‍ट करके कानूनी कार्रवाई के लिए भेज दिया गया है।

आपको बता दें कि सोशल मीडिया को लेकर बिफाजद नेता मंगलवार रात से ही प्रदर्शन कर रहे हैं और आरोप लगा रहे हैं कि सोशल मीडिया के जरिये धार्मिक भावनाओं को भड़काया गया है।

Load More In विदेश
Comments are closed.