Home खेल इस महिला क्रिकेटर ने मचाई धूम, महज 12 गेंदो में ठोंके 58 रन, लड़का बनकर ट्रेनिंग के लिए हुई थीं मजबूर…

इस महिला क्रिकेटर ने मचाई धूम, महज 12 गेंदो में ठोंके 58 रन, लड़का बनकर ट्रेनिंग के लिए हुई थीं मजबूर…

49 second read
0
13

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट के लिए मंगलवार का दिन काफी मंगल रहा, भारतीय पुरुष टीम ने इंग्लैंड को तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच में 66 रनों के विशाल अंतर से मात दी, तो वहीं दूसरी ओर भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने भी टी-20 सारीज के आखिरी मैच में दक्षिण अफ्रीका को 9 विकेट से मात देकर अपनी मजबूती का लोहा मनवाया।

मंगलवार को खेले गये टी-20 सीरीज के आखिरी मैच में शेफाली वर्मा ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। सलामीं बल्लेबाजी करने आई शेफाली वर्मा ने 30 गेंदो का सामना करते हुए शानदार 60 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होने 7 चौका और पांच दनदनाता छक्का जड़ा। उनके स्ट्राइक रेट की बात करें तो उन्होने 200 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की।

शेफाली ने अपने इस शानदैर पारी में 58 रन तो महज 12 गेंदो में ही बना डाले थे। हरियाणा की शेफाली वर्मा 3 साल में ही 22 टी-20 मैच खेलील हैं। इस दौरान उन्होने अपने नाम कई रिकॉर्ड भी दर्ज किया है। 28 जनवरी 2004 को हरियाणा के रोहतक में पैदा हुई शेफाली वर्मा आज भारतीय महिला क्रिकेट में किसी पहचान की मोहताज नहीं है। हाल ही में उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लखनऊ में स्मृति की कप्तानी में टीम ने टी20 सीरीज के आखिरी मैच में 9 विकेट से जीत दर्ज की। इस मैच में शेफाली वर्मा ने सिर्फ 30 गेंदों में 60 रनों की धुआंधार पारी खेल डाली। अपनी इस पारी में से 58 रन तो शेफाली ने सिर्फ 12 गेंदों में ही बना डाले। इसके साथ ही उन्होंने 7 चौके और 5 छक्के लगाए।

शेफाली वर्मा में क्रिकेट के जूनून की बात करें तो वो लड़का बनकर ट्रेनिंग करती थी। उन्होने यहां तक पहुंचने के लिए काफी संघर्ष किया है। मंगलवार को खेले गये मैच में शेफाली का साथ दूसरे छोर पर टी-20 कप्तान स्मृति मंधाना दे रही थी। कप्तान मंधाना ने 28 गेंदो का सामना करते हुए 9 चौकों की मदत से शानदार 48 रनोंम की पारी खेली। वही हरलीन देओल ने भी नाबाद 4 रनों का योगदान दिया।

 

Load More In खेल
Comments are closed.