Home उत्तर प्रदेश चुनाव आयोग ने दिशा-निर्देश की उड़ी धज्जियां, विजयी प्रधानों ने निकाले विजय जूलूस

चुनाव आयोग ने दिशा-निर्देश की उड़ी धज्जियां, विजयी प्रधानों ने निकाले विजय जूलूस

0 second read
0
9

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

चंदौली: कोरोना महामारी को देखते हुए चुनाव आयोग ने गाइडलाइन जारी कर कहा था कि कोई भी विजय जूलूस नहीं निकालेगा। इसके अंतर्गत संबंधित थानाध्यक्षों द्वारा आदेश जारी कर कड़ाई से पालन करने के निर्देश भी दिया गया है। बावजूद इसके प्रत्याशियों ने जश्न मनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। गाइडलाइन का उललंधन का पहला मामला चंदौली जनपद के अलीनगर थाना क्षेत्र के अमोघपुर गांव की है। जहां ग्राम प्रधान पद पर सुनील चौहान की जीत होने के बाद उन्होंने सैकड़ो समर्थकों समेत ढोल नगाड़े संग जुलूस निकाला। इस दौरान समर्थकों ने सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते हुए जमकर जीत का जश्न मनाया।

वहीं दूसरा मामला चंदौली जिले के ही अलीनगर थानाक्षेत्र के पटपरा गाव की है जहां प्रधान बेबी चौहान की जीत के बाद उनके पति बाले चौहान ने अपने सैकड़ो समर्थको के साथ जीत का जश्न मनाया। वीडियो वायरल होने के बाद दोनों प्रधानों के विरुद्ध कार्रवाई भी की गई। इस संबंध में अलीनगर थानाध्यक्ष संतोष कुमार सिंह ने बताया कि मामले में अमोघपुर के नवनिर्वाचित प्रधान सुनील चौहान समेत 15 से 20 अज्ञात समर्थको व पटपरा के प्रधानपति बाले चौहान व उनके 20 समर्थकों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है।

पिछले 24 घंटे की बात करें तो पिछले 24 घंटे में प्रदेश कोरोना संक्रमण के 29,192 नए मामले सामने आए हैं। डिस्चार्ज लोगों की संख्या 38,687 है। पिछले 24 घंटे में संक्रमण से 288 लोगों की मृत्यु हुई है। रविवार प्रदेश में 2,29,440 सैंपल की जांच हुई है।

महामारी से लखनऊ, प्रयागराज, झांसी, गोरखपुर और चंदौली में स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। ज्यादातर मौंतें इन्हीं जिलों में हुई हैं। राजधानी लखनऊ में लगातार सबसे ज्यादा संक्रमित केस मिलने का सिलसिला जारी है। पिछले 24 घंटे में लखनऊ में सबसे ज्यादा 3058 संक्रमित केस मिले हैं, जबकि 26 लोगों की मौत हो गई है। यहां थोड़ी राहत देने वाली खबर यह है कि कुल संक्रमितों से ज्यादा लोग स्वस्थ होकर अस्पताल से डिस्चाज हो गए हैं। पिछले 24 घंटे में लखनऊ में 5,686 लोग कोरोना को मत दे दी है। यहां अब भी 36,384 कोरोना के सक्रिय केस हैं।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.