Home उत्तर प्रदेश सहरानपुर में इंटरग्रेटेड कमान कंट्रोल सिस्टम की स्थापना का टेंडर का हुआ फाइनल

सहरानपुर में इंटरग्रेटेड कमान कंट्रोल सिस्टम की स्थापना का टेंडर का हुआ फाइनल

9 second read
0
10

सहारनपुर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत एक बार फिर नगर निगम द्वारा करोड़ों रुपए का बजट तैयार किया गया है। सहारनपुर स्मार्ट सिटी द्वारा पहले भी पांव धोए नदी को लेकर करोड़ों रुपए खर्च किए जा चुके हैं और वही सहारनपुर स्मार्ट सिटी के सुंदरीकरण में भी करोड़ों रुपए खर्च किए जा चुके हैं।

लेकिन धरातल पर कुछ भी देखने को नहीं मिलता है। आज भी शहर की हालत जस की तस बनी हुई है। अब देखना यह होगा कि सहारनपुर स्मार्ट सिटी के अंतर्गत जो यह बजट, इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर का आया है। क्या इसमें भी बड़ा खेल देखने को मिलेगा।

बता दें कि इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सिस्टम एक ही छत के नीचे बनाया जा रहा है। जिसका टेंडर जापान की एनईसी लिमिटेड कंपनी को दिया गया है और इस कार्य को पूरा करने के लिए इस कंपनी को 1 वर्ष का समय भी दिया गया है।

 

इस कंट्रोल सिस्टम के तहत सहारनपुर में 1000 कैमरे लगाए जाएंगे और 200 किलोमीटर तक की ऑप्टिकल फाइबर केबल इसमें लगाई जाएगी। इस कमान के तहत शहर के अंदर ट्रैफिक व्यवस्था, सफाई व्यवस्था, क्राइम कंट्रोल पूरी तरह से एक ही छत के नीचे निगरानी कर इस व्यवस्था को सुदृढ़ किया जाएगा।

अगर कोई व्यक्ति ट्रैफिक के नियमों का पालन नहीं करता या फिर सफाई के तहत पूरे नियमों का पालन न करते हुए कूड़ा इधर उधर फेकता है। तो उन कैमरों में सारी चीज रिकॉर्ड होगी। जिसके बाद सीधा उन लोगों के घर नोटिस भेज कर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

इसके अलावा वाटर टैक्स, हाउस टैक्स, कूड़ा घर, नाले की साफ सफाई सभी की समीक्षा एक ही स्थल पर एक छत के नीचे बैठकर की जाएगी। इस पूरी परियोजना में 100 करोड़ की लागत आएगी।

कमिश्नर संजय कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि लोग अगर की भी तरह से वायलेंस का काम करते है। ट्रैफिक का तो सब इन कैमरे के रिकॉर्ड है, बिना किसी इंटरफेयर के उनके घरों में नोटिस पहुँच जाएगा।

इसके अलावा अगले 3 महीनों में स्मार्ट सिटी परियोजना के अंतर्गत 1000 करोड़ रुपए की टेंडर की परियोजनाएं हम पूर्ण करने जा रहे है। जिसमें 1 कड़ी आज थी।

200 करोड़ के स्मार्ट रोड के टेंडर होने जा रहे है। इसके अलावा और भी बहुत महत्वपूर्ण टेंडर भी अगले कुछ माह में पूरे हो जाएंगे।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.