Home Politics फटी जींस के बाद CM तीरथ सिंह रावत एक और अटपटा बयान- 20 बच्चे पैदा करते तो मिलता ज्यादा राशन

फटी जींस के बाद CM तीरथ सिंह रावत एक और अटपटा बयान- 20 बच्चे पैदा करते तो मिलता ज्यादा राशन

44 second read
0
4

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

उत्तराखंड : उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने हाल ही में विवादित बयान दिया था । इसी बीच एक बार फिर सीएम रावत के बोल बिगड़े हुए नज़र आए । मुख्यमंत्री ने रविवार को रामनगर में आयोजित एक कार्यक्रम में लॉकडाउन के दौरान सरकार द्वारा बांटे गए अनाज को लेकर बयान दिया । सीएम ने कहा कि लोगों में सरकार द्वारा बांटे गए चावल को लेकर जलन भी होने लगी होगी कि दो सदस्यों वालों को 10 किलो जबकि 20 सदस्य वालों को एक क्विंटल अनाज क्यों दिया गया?

उन्होंने कहा कि ‘भैया इसमें दोष किसका है, उसने 20 पैदा किए, आपने दो पैदा किए, तो उसको एक क्विंटल मिल रहा है, इसमें जलन काहे का। जब समय था तब आपने दो ही पैदा किए, 20 क्यों नहीं किए।’

इसके अलावा सीएम तीरथ ने दूसरे बयान में कहा कि ‘अमेरिका ने भारत को 200 साल तक गुलाम बनाकर रखा । रावत का कहना है कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलख जगाई । मैं कह सकता हूं कि अगर उनकी जगह कोई और नेतृत्व होता तो भारत का न जाने क्या हाल होता, हम बेहाल हो जाते । उन्होंने हमें राहत देने का काम किया ।

उन्होंने कहा- ‘130-35 करोड़ की आबादी का देश भारत आज राहत महसूस कर रहा है, अन्य देशों की अपेक्षा । जहां अमेरिका के हम 200 साल गुलाम थे। पूरे विश्व पर उसका राज था । सूरज छुपता नहीं था, यह कहा जाता था । आज के समय वह डोल गया, बोल गया । पौने 3 लाख से ज्यादा मृत्यु दर चला गया । 12 करोड़ की आबादी का देश, स्वास्थ्य में नंबर 1, हालत खस्ता है । फिर लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है। नरेंद्र मोदी ने हमें बचाने का काम किया है, हमने उसका पालन भी किया। उन्होंने कहा कि मास्क लगाओ, सैनिटाइजर लगाओ, हाथ धोओ, सोशल डिस्टेंसिंग रखो तो लोगों ने किया ।

आपको बताते चलें कि यह पहला मौका नहीं है जब तीरथ सिंह रावत ने कुछ ऐसा कहा हो, जिसको लेकर हंगामा मच गया हो । इससे पहले भी रावत मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ऐसे बयान दे चुके हैं। तीरथ सिंह रावत ने हरिद्वार में नेत्र कुंभ का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना भगवान राम से कर दी थी । उन्होंने कहा था कि आने वाले समय में हम नरेंद्र मोदी को भी भगवान राम के रूप में मानने लगेंगे ।

इससे पहले तीरथ सिंह रावत ने मंगलवार को देहरादून में एक वर्कशॉप में महिलाओं के रिप्‍ड जींस पहनने पर आपत्ति जताई थी । उन्होंने कहा था, “आजकल महिलाएं भी फटी जींस पहनती हैं। उनके घुटने दिखते हैं, ये कैसे संस्कार हैं? ये संस्कार कहां से आ रहे हैं। इससे बच्चे क्या सीख रहे हैं और महिलाएं आखिर समाज को क्या संदेश देना चाहती हैं। सीएम के इस बयान को लेकर बवाल मच गया था। जिसके बाद सीएम तीरथ को माफी मांगी पड़ी थी ।

Load More In Politics
Comments are closed.