1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए नामांकन से पहले समाजवादी पार्टी के प्रस्तावक गायब

जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए नामांकन से पहले समाजवादी पार्टी के प्रस्तावक गायब

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए शनिवार को नमांकन किया गया। जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने दोपहर 3 बजे तक समयसीमा तय की थी। नामांकन के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी को लेकर जोर आजमाइश साफ देखने को मिली। बात करें BJP की तो बीजेपी ने जहां 65 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य निर्धारित किया है, वहीं विपक्षी दल भी अपनी तरफ से पूरी ताकत झोंक दी हैं।

इन सब के बीच गाजियाबाद जिले में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता होटल कंट्री इन के बाहर धरने पर बैठे नजर आए। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि जिला प्रशासन की शह पर बीजेपी के नेताओं ने उनकी पार्टी के जिला पंचायत सदस्यों को होटल के कमरों में कैद कर रखा है। उनका आरोप है कि बीजेपी नेताओं ने इसलिए जिला पंचायत सदस्यों को कैद किया है, जिससे वे प्रस्तावक के तौर पर जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए होने वाले नामांकन में शामिल न हो पाएं।

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का कहना है कि इससे बीजेपी के प्रत्याशी का जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचन तय हो जाएगा। इसीलिए सपा के जिला पंचायत सदस्यों को होटल में कैद करके रखा गया है। सपा के महानगर अध्यक्ष का आरोप है कि पहले जितेंद्र को प्रस्तावक बनाया गया था लेकिन जिला प्रशासन ने उनके ईंट भट्ठे में पानी भरवा दिया जिससे वे दबाव में आ गए।

इस दौरान उन्होंने कहा कि इसके बाद पार्टी ने रजनी खटिक को प्रस्तावक बनाया तो उन्हें कंट्री इन होटल में कैद कर रखा गया। होटल के प्रबंधक और सिक्योरिटी ने उन्हें बाहर निकलने देने से साफ इनकार कर दिया है। सपा के महानगर अध्यक्ष ने दावा किया कि कमरे के भीतर से वे लोग लगातार पार्टी नेताओं के संपर्क में हैं लेकिन उन्हें निकलने नहीं दिया जा रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads