Home उत्तर प्रदेश कोविड से मचे हाहाकार के बीच पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गैंग का खुलासा, 4 गिरफ्तार

कोविड से मचे हाहाकार के बीच पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले गैंग का खुलासा, 4 गिरफ्तार

0 second read
0
17

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: कोविड महामारी से मचे हाहाकार के बीच पुलिस के सामने सबसे बड़ी चुनौती कालाबाजारी करने वाले लोगो ने खड़ी कर दी है। ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमीं से लोग दिन पर दिन दम तोड़ते ही जा रहें हैं, तो वदीं दूसरी तरफ कालाबाजारी करने वाले लोग इसका फायदा उठाने से नहीं चूक रहें हैं। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले एक अंतरराज्यीय गैंग का खुलासा किया है।

आपको बता दें कि क्राइम ब्रांच की टीम ने इस मामले में दो शातिरों को गिरफ्तार किया है। तो राष्ट्रीय राजधानी से सटे  नोएडा में भी गुप्त सूचना मिलने के बाद पुलिस ने छापेमारी कर दो लोगों को पकड़ा है, जो रेमडेसिविर की कालाबाजारी में शामिल थे।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने रेमडेसिविर की कालाबाजारी करने वाले जिन दो लोगों को गिरफ्तार किया है उनके कब्जे से इंजेक्शन के तीन वॉयल बरामद हुए हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान दिल्ली के रहने वाले जितेन्द्र कुमार और अमृतसर के रहने वाले तलविंदर सिंह के रुप में हुई है। पुलिस इन दोनों से पूछताछ कर रही है।

वहीं नोएडा में भी रेमडेसिविर की कालाबाजारी की सूचना मिलने पुलिस ने छापेमारी की जहां से पुलिस ने इंजेक्शन की ब्लैक मार्केटिंग करने वाले दो लोगों को पकड़ा है। पकड़े गये आरोपियों की पहचान मोहन और शोएब के रुप में हुई है।

पुलिस ने इनके पास से रेमडेसिविर के कुल 13 इंजेक्शन बरामद किया हैं। जिन्हें ये लोग 25 से 40 हजार रुपये की कीमत पर बेच रहे थे। इसके साथ ही मिली जानकारी के अनुसार पंजाब में भी छापेमारी की जा रही है। इसके साथ ही नोएडा के ही थाना सेक्टर 20 इलाके से नोएडा पुलिस ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की काला बाजारी के आरोप में एक शख्स को गिरफ्तार किया है। जिसके पास से सैकड़ों की संख्या में रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए गए हैं। नोएडा पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.