1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Ganga Expressway: PM मोदी ने किया गंगा एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास, UP के लोगों को मिल रहा ये 5 वरदान

Ganga Expressway: PM मोदी ने किया गंगा एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास, UP के लोगों को मिल रहा ये 5 वरदान

Ganga Expressway: PM Modi laid the foundation stone of Ganga Expressway; PM मोदी ने किया गंगा एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास। गंगा एक्सप्रेस वे के निर्माण में तकरीबन 36 हजार 200 करोड़ रुपये से अधिक का खर्च। UP के लोगों के लिए वरदान साबित होगा यह एक्सप्रेस वे।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

Ganga Expressway: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18 दिसंबर यानी शनिवार को उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में गंगा एक्सप्रेस-वे शिलान्यास किया। जिसकी लंबाई 594 किमी है। इस एक्सप्रेस वे के निर्माण में तकरीबन 36 हजार 200 करोड़ रुपये से भी अधिक का खर्च किया जा रहा है। कार्यक्रम को संबोधित करने के दौरान PM मोदी ने कहा कि इस एक्सप्रेसवे के निर्माण से उत्तरप्रदेश के विकास का रास्ता बढ़ेगा।

ख़बरों के अनुसार यह एक्सप्रेस वे मेरठ के बिजौली गांव के पास से शुरू होकर प्रयागराज के जुदापुर दांडू गांव तक पहुंचेगा। साथ ही यह एक्सप्रेस-वे मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर के अलावा अमरोहा से भी होकर गुजरेगा। इसके बाद यह एक्सप्रेसवे संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली के रास्ते प्रतापगढ़ होते हुए प्रयागराज तक पहुंचेगा। आपको बता दें ये एक्सप्रेसवे पूरी तरह से बन जाने के बाद उत्तरप्रदेश राज्य के पश्चिमी और पूर्वी क्षेत्रों को जोड़ने वाला, उत्तर प्रदेश का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे बन जाएगा।

लोगों को संबोधित करते हुए PM मोदी ने कहा कि, ‘’मां गंगा सारे मंगलों की, सारी उन्नति प्रगति की स्रोत हैं। मां गंगा सारे सुख देती हैं और सारी पीड़ा हर लेती हैं। ऐसे ही गंगा एक्सप्रेसवे भी यूपी के विकास के नए रास्तें खोलेगा। आज शाहजहांपुर के लिए ऐतिहासिक दिन है। आज के दिन यूपी के सबसे बड़े एक्सप्रेसवे गंगा एक्सप्रेसवे पर काम शुरू हो रहा है। लगभग 600 KM लंबे इस एक्सप्रेसवे पर लगभग 36000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।’’

PM मोदी ने कहा कि, ‘’आज ये जो आज यूपी में एक्सप्रेसवे बनाया जा रहा है, जो नए एयरपोर्ट बनाए जा रहे हैं, नए रेलवे रूट बन रहे हैं, वो यूपी के लोगों के लिए अनेक वरदान एक साथ लेकर आ रहे हैं।’’

ये वारदान हैं-

पहला वरदान- लोगों के समय की बचत।

दूसरा वरदान- लोगों की सहूलियत में बढ़ोतरी, सुविधा में बढ़ोतरी।

तीसरा वरदान- यूपी के संसाधनों का सही उपयोग।

चौथा वरदान- यूपी के सामर्थ्य में वृद्धि।

पांचवा वरदान- यूपी में चौतरफा समृद्धि।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...