1. हिन्दी समाचार
  2. आगरा
  3. ताजनगरी आगरा में बसेगा नया शहर “ग्रेटर आगरा”, ग्रेटर नोएडा से भी ज्यादा होगा खूबसूरत और भव्य

ताजनगरी आगरा में बसेगा नया शहर “ग्रेटर आगरा”, ग्रेटर नोएडा से भी ज्यादा होगा खूबसूरत और भव्य

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: मनीष जैन/ सत्यम दुबे

आगरा: कभी भ्रष्टाचार में लिप्त आगरा विकास प्राधिकरण ADA  की स्थिति काफी खराब थी। हालात तो ये हो गये थे कि ADA को भ्रष्टाचार के लिए जाना जाने लगा था। लेकिन जबसे ADA की कमान डॉ राजेंद्र पेंसिया को सौंपी गई है। आगरा विकास प्रधिकारण ADA की तस्वीर बदल गई है। ADA के उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेंसिया के उपाध्यक्ष बनते ही यहां की स्थिति बदल गई। ADA उपाध्यक्ष जमीनों को कब्जा मुक्त करा रहें हैं। साथ ही साथ अवैध इमारतों को भी सील किया जा रहा है। वहीं आगरा जिले की बढ़ती जनसंख्या भी एक मुख्य कारण है कि यहां ADA उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेंसिया ग्रेटर आगरा बनाने जा रहें हैं।

आगरा जिले की जनसंख्या की बात करें तो इस वक्त यहां की जनसंख्या 44 लाख 18 हजार से भी ज्यादा है। आगरा जिले से सटे छोटे जिले फिरोजाबाद,एटा,मैनपुरी जैसे जिलों के लोग आगरा में रहने को आ रहें हैं। इन छोटे जिलों के लोग शहर में रहना चाहते हैं, इसलिए आगरा जिले की जनसंख्या भी बढ़ती जा रही है। यही कारण है कि ADA उपाध्यक्ष ने ग्रेटर आगरा बनाने का फैंसला किया है। इसके साथ ही यहां के लोगो की मांग को देखते हुए कमिश्नर ने ग्रेटर आगरा के लिए बिल पास कर दिया है।

प्यार की नगरी आगरा ताजमहल के लिए जाना जाता है, लोग यहां ताजमहल का दीदार करते हैं। इसके साथ ही यहां की और कुछ पुरानी चीजों के बारे में जानकर गर्व महसूस करते हैं। अब आगरा के लोग या यूं कहें तो पूरे उत्तर प्रदेश के लोग आगरा पर और गर्व महसूस करेंगे। योगी सरकार आगरा को सुंदर और दिव्य बनाने जा रही है। लोग अब आगरा में ताजमहल के साथ-साथ यहां बनने वाले नये आगरा या ग्रेटर आगरा को भी देखकर इसपर गर्व करेंगे।

आपको बता दें कि आगरा विकास प्राधिकरण इनर रिंग रोड के सहारे ग्रेटर आगरा बरसाने की योजना पर काम कर रहा है। इसके लिए प्रधिकरण ने लगभग 612 हेक्टेयर भूमि प्रस्तावित किया है। ग्रेटर आगरा के लिए प्राधिकरण अब विश्व स्तरीय कंसल्टेंट फर्म का चयन करेगा। इसके लिए बहुत जल्द ओपन टेंडर किया जाएगा जिसमें विश्व स्तरीय फर्म को काम सौंपा जाएगा। सोमवार को प्रस्तावित स्थल का आगरा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेंसिया, OSD गरिमा सिंह, सचिव राजेंद्र त्रिपाठी, मुख्य अभियंता एसके नागर, संयुक्त सचिव सोम कमल ने बिल्डर के साथ निरीक्षण किया। उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेसिंया ने बताया कि इनर रिंग रोड के सहारे फ्यूचर सिटी बनाने की योजना है। कंसलटेंट भी विश्व स्तर का होना चाहिए।

सोमवार को आगरा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेसिया ने प्राधिकरण की टीम के साथ रायपुर रहन कला के पास भूमि का निरीक्षण किया। यहां लगभग 612 हेक्टेयर भूमि पर नया शहर बनाने की योजना है। ग्रेटर आगरा बनाने के लिए प्राधिकरण को कम से कम लगभग 500 करोड़ रुपए के लोन की आवश्यकता होगी। इस प्रस्ताव को पिछले दिनों हुई मंडलायुक्त सभागार में बोर्ड की बैठक में स्वीकृति मिल गई है।

वहीं निरीक्षण के दौरान टीम ने जमीन की बाउंड्री निर्धारित की इसके साथ ही एत्मादपुर मथुरा के पास लैंड पुलिंग स्कीम के तहत भविष्य की योजना पर मंथन किया गया। ग्रेटर आगरा में स्कूल से लेकर अस्पताल तक बनवाए जाएंगे। इसके साथ ही प्रधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेसिया ने बताया कि, ग्रेटर नोएडा से भी ज्यादा खूबसूरत और भव्य होगा ग्रेटर आगरा। ग्रेटर आगरा का आई लव आगरा पॉइंट आकर्षण का केंद्र होगा।

आपको बता दें कि कभी भ्रष्टाचार के चंगुल में फंसा आगरा विकास प्रधिकरण अब एक सक्षम और कुशल अधिकारी के हाथ में हैं। एक कहावत है कि जब आपके राजा और अधिकारी के मन में कोई खोट नहीं होता तो वहां का विकास होने से कोई रोक नहीं सकता है। यह कहावत अब हकीकत में देखने को मिल रहा है। इसका पूरा श्रेय प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेंसिया को जाता है। जिनके काम करने के तरीके से आगरा दिन पर दिन उत्तर प्रदेश के साथ-साथ देश के विकास में अपना योगदान दे रहा है।

एक वक्त था जब उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार और घोटालों के मामले में अधिकारियों से लेकर नेताओं में होड़ लगी रहती थी। लेकिन मौजूदा वक्त में भ्रष्टाचार का जगह विकास ने ले लिया है। हम ऐसा इसलिए कह रहें हैं कि ग्रेटर आगरा से पहले ग्रेटर नोएडा बनाने की पहल हुई है। लेकिन ग्रेटर आगरा को आगरा विकास प्रधिकरण, ग्रेटर नोएडा से भी दिव्य और भव्य बनाने की योजना पर काम कर रहा है। जो अपने आप में ही विकास का एक जीता-जागता सबूत है। ग्रेटर आगरा बनने में आगरा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष ने जो पहल की है, इससे आगरा के लोगो को गर्व होने का साथ-साथ रोजगार के भी तमाम रास्ते खोल दिए हैं।

ग्रेटर आगरा के “आई लव आगरा पॉइंट” से एक बार फिर लोगो में आकर्षण बढ़ेगा। मोहब्बत का जब-जब जिक्र होता है, तो सबसे पहले आगरा ही जेहन में आता है। आगरा का ताजमहल दुनिया को प्यार का संदेश देता है।  एडीए उपाध्यक्ष ने फतेहाबाद रोड पर ट्राइडेंट तिराहे पर ‘आई लव आगरा’ सेल्फी प्वाइंट का निरीक्षण किया। यह सेल्फी प्वाइंट अब बदहाल हो रहा है। लाइट बंद हैं और पास ही गंदगी के ढेर हैं। जिसको लेकर एडीए उपाध्यक्ष ने कहा कि यहां आकर्षण बढ़ाने के लिए म्यूजिकल फाउंटेन बनाया जा सकता है। पर्यटकों की सुविधा के लिए खाने-पीने के छोटे स्टॉल तैयार कर सकते हैं। इसके साथ ही प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ राजेंद्र पेंसिया ने जो लक्ष्य रखा है, ग्रेटर आगरा को ग्रेटर नोएडा से भी दिव्य और भव्य बनाने का वह भी जल्द ही आप देख पायेंगे।  

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads