Home Breaking News महबूबा मुफ्ती ने सरकार पर जमीन बेचने का लगाया आरोप, पढ़े

महबूबा मुफ्ती ने सरकार पर जमीन बेचने का लगाया आरोप, पढ़े

0 second read
0
2

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती ने एक बार फिर भड़काऊ बयान दिया है। महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि बीजेपी की सरकार जम्मू-कश्मीर में मुसलमानों को निशाना बना रही है और जम्मू कश्मीर की जमीन अपने पूंजीपति समर्थकों को बेचने जा रही है।

महबूबा मुफ्ती ने साफ तौर पर आरोप लगाया है कि 370 के बहाने केंद्र सरकार कश्मीर के मुसलमानों की जमीन हड़पना चाहती है। महबूूबा मुफ्ती ने इसका अंजाम भुगतने की चेतावनी दी है।

महबूबा मुफ़्ती सोमवार को दक्षिण कश्मीर के पहलगाम के जंगलो में रहने वाले गुज्जर और बकरवाल समुदाय से मिलने पहुंची थी जिनके कोठार को पिछले दिनों में वन विभाग ने तहस नहस किया था। महबूबा मुफ़्ती ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए इस कार्रवाई को मुस्लिम विरोधी बताया है।

महबूबा मुफ्ती के अनुसार केंद्र सरकार 370 को हटा कर देश भर के लोगों को कश्मीर में लाकर बसना चाहती है और दूसरी तरफ यहां के पुश्तैनी लोगों को खदेड़कर कश्मीर से भगाना चाहती है।

महबूबा ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर केंद्र सरकार ने गुज्जर और बकरवाल समुदाय को निशाना बनाना नहीं छोड़ा तो आशंका है कि यह लोग अमन और शांति की रह छोड़ कर हिंसा का हाथ ना थाम लें।

महबूबा मुफ्ती ने कहा है, ‘जम्मू कश्मीर में एक नाजायज करवाई शुरू की गई है। इसी कार्रवाई के तहत गुज्जर बकरवाल को खदेड़ा जा रहा है। उन्होंने सरकार के नए लैंड बिल पर सवाल उठाए हैं। सरकार पर मुसलमानों को जानबूझकर निशाना बनाने का आरोप लगाया है।

उधर केंद्र सरकार का कहना है कि यह लोग अवैध तरीके से जंगलो की ज़मीन पर कब्जा करके रह रहे हैं और इस अवैध कब्ज़े को हटाया जा रहा है, हालांकि महबूबा मुफ़्ती से जो गुज्जर और बकरवाल समुदाय के लोग मिले उनका कहना है कि उनके परिवार पिछले 100 सालों से इन जंगलों में रहते आए हैं।

Load More In Breaking News
Comments are closed.