Home उत्तर प्रदेश भभुआ की सभा में मायावती ने अपने भाषण में रोजगार और पलायन के मुद्दे को उठाया

भभुआ की सभा में मायावती ने अपने भाषण में रोजगार और पलायन के मुद्दे को उठाया

12 second read
0
2

भभुआ की सभा में मायावती ने अपने भाषण में रोजगार और पलायन के मुद्दे को उठाया 

बिहार विधानसभा चुनाव में मायावती भी शुक्रवार को चुनाव प्रचार करने उतरीं। उपेंद्र कुशवाहा के साथ उन्होंने कैमूर के भभुआ और रोहतास के करगहर में बसपा प्रत्याशियों के लिए चुनावी सभा कीं।

रोहतास के करगहर में हुई चुनावी सभा में मायावती ने कहा कि आज जिसे देखो नौकरी देने की बात कर रहे हैं। राजद ने बिहार में 15 सालों तक राज किया और उसके बाद 15 सालों से नीतीश कुमार भाजपा के साथ मिलकर सरकार चला रहे हैं, ऐसे में तो इन लोगों को कभी बेरोजगारों की याद नहीं आई।

जब इनको सत्ता मिली तो इन्होंने लोगों को रोजगार क्यों नहीं दिया? राजद और भाजपा पर हमला बोलते हुए मायावती ने कहा कि आज कोई दस लाख नौकरी बांट रहा है तो कोई कह रहा है कि 19 लाख नौकरी देंगे।

भभुआ की सभा में मायावती ने अपने भाषण में रोजगार और पलायन के मुद्दे को उठाया। मायावती ने किसी भी सरकार में दलितों, शोषितों, किसानों, छोटे व्यापारियों व मेहनतकशों के विकास नहीं होने की बात कही।

उन्होंने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस सरकारों की गलत नीतियों की वजह से प्रदेश पिछड़ा रहा और इसके बाद जो स्थानीय दलों की गठबंधन सरकार बनीं, वो भी दलितों और मेहनतकशों के विकास के लिए कुछ नहीं कर पाई जिस वजह से बड़े पैमाने पर पलायन हुआ।

उन्होंने कोरोना काल में प्रदेश लौटते समय हुई प्रवासियों की दुर्दशा की भी चर्चा की।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.