Home Madhya Pradesh चिता जलाने के लिए कम पड़ीं लकड़ियां, एक दिन में हुए इतने अंतिम संस्कार…

चिता जलाने के लिए कम पड़ीं लकड़ियां, एक दिन में हुए इतने अंतिम संस्कार…

1 second read
0
125

भोपाल: मध्य प्रदेश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। संक्रमित मरीजों के साथ-साथ मरने वालों की संख्या भी रिकॉर्ड तोड़ रही है। मंगलवार को राजधानी भोपाल में 18 कोरोना मरीजों का अंतिम संस्कार हुआ है। एक दिन में एक साथ मौतों का यह आंकड़ा साल 2021 में अब तक सबसे ज्यादा है।

दरअसल, भोपाल में कोरोना से मरने वालों का अंतिम संस्कार भदभदा, सुभाष नगर घाट और झदा कब्रिस्तान पर हो रहा है।  मंगलवार को जब शव श्मशान घाट पहुंचे तो यहां चिता जलाने के लिए इंतजार करना पड़ा। क्योंकि जगह कम पड़ गई थी। इतना ही नहीं शव जलाने के लिए लकड़ियां भी कम पड़ गईं।

यह भी पढ़ें: छठी क्लास की बच्ची ने उल्टी करने बस से बाहर निकाला सिर, बगल से निकला ट्रक उड़ा ले गया मासूम का सिर

बता दें कि इससे पहले पिछले साल 2020 में 18 सितंबर को 23 मौतें हुई थीं। जो मंगलवार को हुईं 18 मौतों से ज्यादा थीं। वहीं अगर इस पूरे महीने 1 से 30 मार्च की बात की जाए तो प्रशासन आंकड़े के मुताबिक, 132 अंतिम संस्कार राजधानी भोपाल में हो चुके हैं। जो जनता से लेकर सरकार को चिंता में डालने के लिए हैं।

राजधानी भोपाल में संक्रमितों की संख्या 51 हजार के पार पहुंच गई है। इसमें से करीब 46 हजार मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। कोरोना से अब तक करीब 630 मरीजों की मौत हो चुकी है। अभी भोपाल में 4 हजार के आसपास एक्टिव केस है।

यह भी पढ़ें: UP में होली के जश्न के बाद 9 लोगों ने गंवाई अपनी जान, एक गलती बन गया काल

स्कूल शिक्षा विभाग ने प्रदेश में पहली से 8वीं तक के सभी स्कूल 15 अप्रैल तक बंद कर दिए हैं। सिर्फ 9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं 1 अप्रैल से शुरू हो सकेंगी। इसके लिए भी अभिभावकों की सहमति जरूरी है। वहीं, माशिमं ने 10वीं व 12वीं परीक्षाओं का टाइम टेबल बदला है। 10वीं की परीक्षाएं 30 अप्रैल से 15 मई तक और 12वीं की एक मई से 21 मई तक चलेंगी।

वहीं, इंदौर के सरकारी रिकॉर्ड में हर दिन 2 से 3 कोविड मरीजों की मौत दर्ज है, लेकिन वास्तव में यह संख्या ज्यादा है। एमवाय हॉस्पिटल में बीते 24 घंटे में 20 शव मर्चुरी पहुंचे। इनमें कोविड व संदिग्धों मरीजों के शव शामिल हैं। वहीं, अरबिंदो अस्पताल में भी 5 मौतों की सूचना है। बीते दो दिन से मर्चुरी में शवों की संख्या बढ़ी है।

Load More In Madhya Pradesh
Comments are closed.