1. हिन्दी समाचार
  2. विदेश
  3. इजराइल मे सीरिया पर किया हवाई हमला, 11 सैनिकों की हुई मौत, कई इमारतें हुईं ढ़ेर

इजराइल मे सीरिया पर किया हवाई हमला, 11 सैनिकों की हुई मौत, कई इमारतें हुईं ढ़ेर

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: जानकारी मिली है कि इजराइल ने सीरिया पर ताबड़तोड़ हवाई हमले कर दिये हैं। इजराइल के इस हमले में सीरिया के लगभग 11 सैनिकों की मौत हो गई है। वहीं कई बड़ी इमारत अब केवल खंडहर बनकर रह गई है। इजरायल ने सेंट्रल और दक्षिणी सीरिया को निशाना बनाते हुए ये हमले किए थे। सीरियाई एयर डिफेन्स ने कहा, बड़े विस्फोटों की आवाज सुनी गई।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की मानें तो, कुछ सीरियाई मीडिया का कहना है कि इजरायली मिसाइल हमले होम्स प्रांत में हुए, जो पड़ोसी लेबनान से भी सटा हुआ है, जहां ईरानी समर्थित लेबनानी शिया हिजबुल्लाह का बोलबाला है। लेकिन सीरिया पर हमलें को लेकर इजरायली सेना की ओर से कुछ भी नहीं कहा गया है। पश्चिमी ख़ुफ़िया सूत्रों ने कहा कि हमले ईरान विरोधी नीति का भी हिस्सा हैं, जिसने पिछले दो वर्षों में शत्रुता में बड़ी वृद्धि शुरू किए बिना ईरान की व्यापक सैन्य शक्ति को कम कर दिया है।

आपको बता दें क् ‘सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स’ ने कहा कि मंगलवार देर रात मध्य सीरिया में इजरायली हवाई हमलों में कम से कम 11 सरकारी सैनिक और मिलिशिया मारे गए। ब्रिटेन स्थित युद्ध मॉनिटर ने कहा कि युद्धविराम के बाद इजराइल और गाजा के बीच 11 दिनों तक चले संघर्ष समाप्त होने के बाद सीरिया में इजरायल द्वारा पहली बार हमले किए गए।0

ऑब्जर्वेटरी के प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने समाचार एजेंसी AFP को बताया, “सेना के कम से कम सात जवान और चार राष्ट्रीय रक्षा बल मिलिशिया मारे गए।” उन्होंने कहा कि सभी मृत सीरियाई थे। ऑब्जर्वेटरी ने कहा कि वायु सेना की चौकियों के साथ-साथ एक हथियार डिपो को भी निशाना बनाया।

उन्होने आगे कहा कि इजरायली वायु सेना ने मंगलवार शाम को सीरिया के कई क्षेत्रों, राजधानी दमिश्क के साथ-साथ होम्स, हमा और लताकिया प्रांतों में हमले किए। 2011 में सीरिया में गृहयुद्ध छिड़ने के बाद से, इज़राइल ने सीरियाई क्षेत्र पर सैकड़ों हवाई हमले किए हैं, जिसमें ईरान समर्थित सेना और लेबनान के हिज़्बुल्लाह आंदोलन के आतंकियों को निशाना बनाया गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads