Home विदेश अमेरिका में करीब सात दशक के बाद किसी महिला को दी जाएगी मौत की सजा

अमेरिका में करीब सात दशक के बाद किसी महिला को दी जाएगी मौत की सजा

0 second read
0
5

वाशिंगटन, रायटर। अमेरिका में 67 साल में पहली बार एक महिला को मौत की सजा सुनाई जाएगी। अमेरिका की सर्वोच्च अदालत ने महिला की मौत की सजा पर रोक लगाने संबंधी याचिका को खारिज कर दिया है जिसके बाद अब इस महिला को मौत की सजा दिए जाने का रास्ता साफ हो गया है। अमेरिकी सरकार ने लीजा मोंटगोमरी नामक महिला को मौत की सजा दिए जाने की तैयारी पूरी कर ली है।

लीजा मोंटगोमरी अमेरिका के मिसूरी में रहने वाली एक गर्भवती महिला की हत्या करने के बाद उसके गर्भ से बच्ची को निकालकर अपने कब्जे में लेने की दोषी है। अमेरिका में लगभग सात दशक(करीब 67 साल) के बाद किसी महिला को मौत की सजा सुनाई गई है। दोषी लीजा मोंटगोमरी को इंडियाना के तेर्रे हाउते में एक केंद्रीय कारागार(सेंट्रल जेल) में मौत की सजा दी जानी है।

मौत की सजा पर अमेरिका में राजनीति !

लीजा मोंटगोमरी को अमेरिकी के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के जाने से आठ दिन पहले मौत की सजा का रास्ता साफ हो गया है। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन  मौत की सजा क खिलाफ हैं जबकि ट्रंप सरकार पर आरोप लगाए जा रहे हैं कि वह इस मौत की सजा के ऐलान को गैरकानूनी ढ़ंग से आगे बढ़ाने चाहते हैं।

अमेरिका में एक फेडरल जज ने न्याय विभाग पर आरोप लगाया है कि उसने एक महिला की सजा की तारीख को गैरकानूनी तरीके से आगे बढ़ा दिया है। जज ने इसका कारण बताया कि ट्रम्प प्रशासन चाहता है कि इस महिला को मौत की सजा ट्रंप के शासन के दौरान न मिले, उसे नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के शासन में सजा मिले।

मौत की सजा देने से 20 दिन पहले देनी होती है सूचना

आम तौर पर न्याय विभाग के दिशानिर्देशों के अनुसार मौत की सजा वाले कैदी को फांसी से कम से कम 20 दिन पहले सूचित किया जाना चाहिए। अगर न्याय विभाग जनवरी में तारीख को फिर से निर्धारित करता है तो इसका मतलब यह है कि मौत की सजा की तारीख 20 जनवरी को बाइडन के शपथ के बाद ही होगी।

 

Load More In विदेश
Comments are closed.