Home उत्तर प्रदेश UP: इंटरनेट पर अश्लीलता खोजी तो झट से चला जाएगा मेसेज, और फिर सर्च करने वालों की खैर नहीं

UP: इंटरनेट पर अश्लीलता खोजी तो झट से चला जाएगा मेसेज, और फिर सर्च करने वालों की खैर नहीं

2 second read
0
290

नई दिल्ली : अक्सर आपने लोगों को देखा होगा कि वे मोबाइल या लैपटॉप पर पढ़ाई या शोध के चीजें बहुत कम लेकिन अश्लील कंटेंट ज्यादा खोजते है। जिसे लेकर कई बार ये भी कहा जाता है कि देश में बलात्कार बढ़ने का एक प्रमुख कारण ये भी है। हालांकि राज्य में लगातार बढ़ते बलात्कार की घटना को लेकर यूपी एडीजी ने बड़ा कदम उठाया है और इसे लेकर उन्होंने एक ऐसी टीम का गठन किया है, जो आपके हर मूवमेंट पर नजर रखेगी।

एडीजी नीरा रावत ने 1090 में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इंटरनेट के बढ़ते हुए प्रयोग को देखते हुए 1090 ने भी लोगों तक पहुंचने के लिए इसी माध्यम का प्रयोग किया। उत्तर प्रदेश में डिजिटल चक्रव्यूह (महिला सुरक्षा के लिए 360 डिग्री इकोसिस्टम) के लिए एक डिजिटल आउटरीच रोडमैप तैयारा किया। उन्होंने बताया कि इंटरनेट के एनालिटिक्स को स्टडी करने के लिए oomuph नाम की एक कंपनी से रखा गया है। वो डेटा के माध्यम इंटरनेट क्या सर्च किया जा रहा है इस पर नजर रखेगी।

एडीजी ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति इंटरनेट पर अश्लीलता देखते है तो उसके संकेत एनालिटिक्स टीम को मिल जाएंगे। टीम उसके बारे में 1090 टीम को बता देगी। 1090 की टीम उस व्यक्ति को ऐसी सामग्री से सचेत रहने के लिए जागरूकता के मेसेज भेजेगी। ऐसा करने से अपराध की शुरुआत पर ही रोक लगाई जा सकेगी।

नीरा रावत ने बताया कि इस पूरी योजना का नाम (हमारी सुरक्षा) दिया गया है। इस योजना के तहत प्रदेश के सभी इंटरनेट यूजर तक पहुंचने का टारगेट रखा गया है। इस योजना को चरणबद्ध ढंग से पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। आने वाले समय में 1090 सोशल मीडिया के हर प्लेटफॉर्म पर मौजूद रहेगा और अलग-अलग सोशल मीडिया के यूजरों तक इसकी पहुंच होगी।

वहीं उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर प्रसारित किए जाने वाले मेसेज और संदेश भी तैयार किए गए हैं। आपको बता दें कि इस टीम के गठन के साथ ही महिलाओं तक भी अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए 1090 समय-समय पर जागरूकता संदेश और मेसेज सोशल मीडिया पर हर प्लेटफॉर्म के माध्यम से भेजेगा।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.