1. हिन्दी समाचार
  2. एजुकेशन
  3. अच्छी शिक्षा देने का बाबा साहब का अधूरा सपना मैं करूंगा पूरा: अरविंद केजरीवाल

अच्छी शिक्षा देने का बाबा साहब का अधूरा सपना मैं करूंगा पूरा: अरविंद केजरीवाल

I will fulfill Babasaheb's unfulfilled dream of giving good education Arvind Kejriwal;सारी पार्टियों और नेताओं ने एससी भाईचारे का सिर्फ इस्तेमाल किया । आज दिल्ली के सरकारी स्कूल शानदार बन गए हैं।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

खुर्शीद रब्बानी

नई दिल्ली/पंजाब: आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज पंजाब के होशियारपुर में एससी सम्मान सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मुझे बेहद दुख है कि आजादी के 75 साल बाद भी देश के हर बच्चे को अच्छी शिक्षा देने का बाबा साहब का सपना पूरा नहीं हो सका। इसलिए मैंने यह कसम खाई है कि बाबा साहब का अधूरा सपना मैं पूरा करूंगा। इन पार्टियों और नेताओं ने जानबूझ कर सरकारी स्कूलों का बेड़ा गर्क किया है, ताकि एससी वर्ग बराबरी का हक लेने के लिए कभी खड़ा न हो सके। ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर कांग्रेस को वोट दे दिया, तो आपके बच्चे ऐसे ही गंदी शिक्षा पाते रहेंगे, इनके इरादे खराब हैं। अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देनी है, तो ले आओ बदलाव, बदल दो सरकार और आम आदमी पार्टी को वोट दो। इस दौरान पांच गारंटी देते हुए कहा कि ‘आप’ की सरकार बनने पर एससी भाईचारे के हर बच्चे को फ्री शिक्षा देंगे, कोचिंग और विदेश में पढ़ने वाले बच्चों का खर्च पंजाब सरकार उठाएगी। साथ ही, हमारी सरकार हर परिवार के इलाज का पूरा खर्च उठाएगी और 18 साल से उपर की हर महिला को हजार रुपए महीना दिया जाएगा।

arvind

सारी पार्टियों और नेताओं ने एससी भाईचारे का सिर्फ इस्तेमाल किया और जानबूझ कर पिछड़ा व गरीब रखा- अरविंद केजरीवाल

 

पंजाब दौरे पर आए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज होशियारपुर में आयोजित एससी सम्मान सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आजादी के बाद से आज तक 75 साल में सारी पार्टियों और नेताओं ने एससी (अनुसूचित) भाईचारे का सिर्फ इस्तेमाल किया और जानबूझ कर एससी भाईचारे के लोगों को पिछड़ा व गरीब रखा। बाबा साहब डॉ. अंबेडकर इतने गरीब परिवार में पैदा हुए, उन्होंने बहुत संघर्ष किया, उनके पास पढ़ने के लिए पैसे नहीं थे। पूरे समाज के साथ उन्होंने संघर्ष किया। उन्होंने 64 विषयों में मास्टर्स की डिग्री ली। एक एमए की डिग्री लेने में नानी याद आ जाती है, लेकिन उन्होंने 64 विषयों में एमए की डिग्री ली। उन्होंने दो डॉक्टर की डिग्री ली। पूरे भारत देश में वे अकेले पहले डॉक्टरेट थे और फिर उन्होंने हमारे देश का संविधान लिखा। बाबा साहब ने एक बात कही थी कि अगर अपने समाज को हमें पिछड़ेपन, गरीबी दूर करनी है और बराबरी का हक दिलाना है, तो यह अच्छी शिक्षा ही कर सकती है। अगर हमारे बच्चे पढ़ लिख गए, तो सारे समाज के साथ बराबरी का हक लेंगे, गरीबी दूर होगी और सबके साथ हम आगे बढ़ेंगे। पिछले 75 साल में इन पार्टियों और नेताओं ने मिलकर जानबूझ कर सरकारी स्कूलों का बेड़ा गर्क कर दिया। क्योंकि सरकारी स्कूलों के अंदर गरीबों और एससी भाईचारे, दलितों के बच्चे पढ़ते हैं। इन्होंने जानबूझ कर सरकारी स्कूलों को खराब रखा, ताकि यह वर्ग कभी भी आगे न बढ़ सके और यह वर्ग कभी बराबरी का अपना हक लेने के लिए खड़ा न हो सके।

 

हम लोग बाबा साहब का सपना लेकर चले और आज दिल्ली के सरकारी स्कूल शानदार बन गए हैं- अरविंद केजरीवाल

 

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में जब हमारी सरकार बनी, तब सरकारी स्कूलों का बुरा हाल था। जैसे पंजाब में सरकारी स्कूलों का बुरा हाल है। पंजाब में आज कई ऐसे स्कूल हैं, जहां एक भी शिक्षक नहीं है। सात क्लास पर एक शिक्षक है, वह कैसे सभी बच्चों को पढ़ाएगा। हम लोग बाबा साहब डॉ. अंबेडकर का सपना साथ लेकर चले और आज दिल्ली के सरकारी स्कूल शानदार बन गए हैं। इस साल हमारे बोर्ड की परीक्षा में हमारे सरकारी स्कूलों के नतीजे 99.7 फीसद आए हैं, जो प्राइवेट स्कूलों से बहुत ज्यादा अच्छा है। इस साल ढाई लाख बच्चों ने प्राइवेट स्कूलों से नाम कटवाकर सरकारी स्कूलों में एडमिशन लिया है। आज दिल्ली का रिक्शे वाले का बच्चा डॉक्टर बन रहा है, मजदूर का बच्चा इंजीनियर बन रहा है। गरीबों और दलितों के बच्चे आज डॉक्टर इंजीनियर बन रहे हैं और बाबा साहब डॉक्टर अंबेडकर के सपने को पूरा कर रहे हैं। वही हमें पंजाब के अंदर भी करना है।

Dr. ambedkar

दिल्ली में एससी भाईचारे के बच्चों की कोचिंग का सारा खर्च दिल्ली सरकार उठाती है- अरविंद केजरीवाल

 

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर डॉक्टर, इंजीनियरिंग, बैंकिंग, रेलवे या आईएएस के पेपर देने हो तो कोचिंग करनी पड़ती है। कोचिंग बहुत महंगी है। एक-एक कोचिंग करने के लिए चार-पांच लाख रुपए लगते हैं। डॉक्टरी की परीक्षा में बैठना है, तो कोचिंग के चार लाख रुपए लगते हैं। इंजीनियर और आइएएस की कोचिंग में पांच लाख रुपए लगते हैं। गरीब आदमी के पास तो इतने पैसे नहीं है। इसीलिए हमने दिल्ली में एक जय भीम योजना बनाई है। हमने कहा है कि एससी भाईचारे का कोई भी बच्चा अगर कोचिंग करना चाहे, तो आप कोचिंग में एडमिशन ले लो और सारा खर्चा दिल्ली सरकार देती है। इस स्कीम के तहत बहुत सारे बच्चों का इंजीनियरिंग, रेलवे, आईएएस आदि में एडमिशन हुआ है। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब अंबेडकर जब डॉक्टरेट करने के लिए इंग्लैंड गए, तो पैसा खत्म होने के कारण उनको बीच में पढ़ाई छोड़कर वापस आना पड़ा था। वे भारत में थोड़ा काम करके पैसे बचाए और फिर पढ़ाई पूरी करने के लिए दोबारा गए। हमने कहा कि आज की तारीख में हमारे एससी भाईचारे के बच्चे को पैसे की कमी नहीं होनी चाहिए। हमने स्कीम बनाई है कि एससी भाईचारे का कोई भी बच्चा पढ़ाई करने के लिए अगर विदेश जाना चाहता है, तो उसका सारा खर्चा दिल्ली सरकार देती है।

 

अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देनी है, तो ले आओ बदलाव, बदल दो सरकार – अरविंद केजरीवाल

 

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह की मैं बहुत इज्जत करता हूं। वे हमारे देश के बहुत बड़े हॉकी के खिलाड़ी रहे हैं। चन्नी साहब की भी मैं बहुत इज्जत करता हूं, लेकिन दोनों ने खड़े होकर कहा कि पंजाब के स्कूलों को सुधारने की जरूरत नहीं है, पंजाब के स्कूल देश में नंबर वन हैं। क्या पंजाब के स्कूल देश में नंबर वन हैं, अगर नहीं हैं, तो इसका मतलब उन लोगों को आपके स्कूल सुधारने की कोई मंसा नहीं है। वो आपके स्कूल ऐसे ही रखेंगे। अगर आपने कांग्रेस को वोट दे दिया, तो ये स्कूल ऐसे के ऐसे ही रहेंगे। गरीबों और एससी भाईचारे के बच्चे ऐसे ही गंदी शिक्षा पाते रहेंगे। इनके इरादे खराब हैं। जैसे 75 सालों से इन्होंने हमारे बच्चों को पिछड़ा रखा, हमें अनपढ़ रखा, ऐसे आने वाले पांच साल के अंदर भी चन्नी साहब और परगट सिंह की मंसा है कि एससी भाईचारे के बच्चों को ऐसे ही गरीब, पिछड़ा और अनपढ़ रखेंगे। अगर अच्छी शिक्षा देनी है, तो बदल दो सरकार। अगर अच्छी शिक्षा देनी है तो पलट दो सरकार, ले आओ बदलाव और आम आदमी पार्टी को वोट दो।

 

पहले कैप्टन साहब झूठे रोजगार के कार्ड बांटे और अब चन्नी साहब पांच मरले के झूठे प्लाट दे रहे हैं- अरविंद केजरीवाल

 

‘आप’ संयोजक ने कहा कि पंजाब में एससी भाईचारे के साथ फिर से धोखा हो रहा है। पिछली बार कैप्टन साहब ने एक कार्ड कर कहा कि मेरी सरकार बनेगी, तो यह कार्ड ले आना, नौकरी दूंगा। पांच साल हो गए, लेकिन नौकरी नहीं दी। आज भी लोग कार्ड लेकर घूम रहे हैं। सीएम बनने के बाद चन्नी साहब ने पांच-पांच मरले के प्लाट के फार्म भरवा दिए। अब तक लाखों लोगों ने फार्म भरा है। लेकिन पूरे पंजाब में अभी तक एक भी आदमी को प्लाट नहीं मिला है, क्यों? चुनाव से पहले इनका यह हाल है। इनकी मंसा और नियत खराब है। इनको प्लाट नहीं देने हैं। पहले कैप्टन साहब झूठ बोले और झूठे रोजगार के कार्ड दिए और अब चन्नी साहब झूठे पांच मरले के प्लाट दे रहे हैं। मैं चन्नी साहब को कहना चाहता हूं कि चुनाव से पहले पांच मरले का प्लाट दे दो या फिर हमारी सरकार यह सारे प्लाट देगी। चारों तरफ होर्डिंग्स लगे हैं कि चन्नी सरकार ने 36 हजार कर्मचारियों को पक्के कर दिए। चन्नी साहब ने किसी को भी पक्का नहीं किया है, वे झूठ बोल रहे हैं। इस बार इनके झूठ में मत आ जाना।

 

आम आदमी पार्टी अकेली ऐसी पार्टी है, जो एससी भाईचारे के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है- अरविंद केजरीवाल

 

‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी अकेली ऐसी पार्टी है, जो एससी भाईचारे के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है। इस बार कोरोना के समय हमारे कई कर्मचारियों की कोरोना से मौत हो गई। हमारे एससी भाईचारे के दो सफाई कर्मचारियों की अस्पताल में ड्यूटी लगी थी और ड्यूटी करते हुए उनको कोरोना हो गया और उनकी मौत हो गई। मैं दोनों सफाई कर्मचारियों के घर जाकर अपने हाथ से एक-एक करोड़ रुपए अपने हाथ से देकर आया हूं। पूरे देश में एक भी ऐसी सरकार नहीं है, जिसने एससी भाई चारे के लोगों को कोरोना की मौत की वजह से एक-एक करोड़ रुपए दिया हो। आज मैं यह चुनौती देता हूं। आज पूरे दिल्ली के अंदर एससी भाईचारे का एक-एक परिवार मेरे को अपना बेटा, अपना बड़ा भाई मानता है। मैं उनके साथ खड़ा हूं।

 

हमारी सरकार हर परिवार के इलाज का पूरा खर्च उठाएगी और 18 साल से उपर की हर महिला को हजार रुपए महीना देगी- अरविंद केजरीवाल

 

इस दौरान ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल ने एससी भाईचारे को पांच गारंटी दी। पहला, पंजाब के एससी भाईचारे के एक-एक बच्चे को अच्छी से अच्छी शानदार और फ्री में शिक्षा देने की जिम्मेदारी हमारी है। दूसरी, अगर एससी भाईचारे का कोई भी बच्चा कोचिंग लेना चाहेगा, तो हमने जैसे दिल्ली में किया है, वैसे ही उसकी पूरी कोचिंग की फीस पंजाब सरकार देगी। तीसरी, अगर एससी भाईचारे का कोई भी बच्चा ग्रैजुएशन या पोस्ट ग्रैजुएशन करने के लिए विदेश जाना चाहेगा, उसका सारा खर्च पंजाब सरकार देगी। चौथी, आपके परिवार में कोई भी बीमार होगा, चाहे छोटी बीमारी हो या बड़ी बीमारी हो, चाहे कैंसर हो या कितना भी बड़ा ऑपरेशन करना होगा, उसका सारा खर्चा पंजाब सरकार देगी। पांचवीं, 18 साल से उपर की हर महिला को हजार-हजार रुपए हमारी सरकार देगी। मैं बाबा साहब का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं। कई बार मैने उनके विचारों और जिंदगी को पढ़ा है। उन्होंने जितना संघर्ष किया और अपनी जिंदगी में जितना उन्होंने पाया, वह अद्भुत है। बाबा साहब ने जो सपना देखा था कि इस देश के एक-एक बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा मिलनी चाहिए। मुझे बेहद दुख है कि आजादी के 75 साल हो गए, हम यह सपना पूरे नहीं कर पाए। मैंने यह कसम खाई है, बाबा साहब का सपना मैं पूरा करूंगा। बाबा तेरा सपना अधूरा, केजरीवाल करेगा पूरा।

 

आपने कांग्रेस और आकली दल को इतने मौके दिए, अब एक मौका आम आदमी पार्टी को दीजिए- अरविंद केजरीवाल

 

चन्नी साहब एससी भाईचारे, रविदास समाज से आते हैं। इसलिए वे चारों तरफ जा-जाकर कह रहे हैं कि सारे एससी भाईचारे के लोग मेरे को वोट दो। मैं सबको कहना चाहता हूं। मैं एससी भाईचारे से नहीं आता, लेकिन मैं आपके परिवार से आता हूं। कल को अगर आपके घर में कोई बीमार होगा, तो मैं आपका बेटा बन कर आपका इलाज कराउंगा। कल को अगर आपका बेटा आईएएस अफसर बनना चाहेगा, तो मैं और आप मिलकर उसको आईएएस बनाएंगे। कल को अगर आपको अच्छी शिक्षा की जरूरत होगी, आपका यह बड़ा भाई आपके काम आएगा, चन्नी साहब काम नहीं आएंगे। वो सिर्फ वोट की राजनीति कर रहे हैं और कह रहे हैं कि मैं भी एससी भाईचारे से और तुम भी एससी भाईचारे से, तुम मुझे वोट दो। मैं कह रहा हूं कि मैं आपके परिवार का हिस्सा हूं, आपका और आपके परिवार का भविष्य बनाना चाहता हूं, इसलिए आम आदमी पार्टी को वोट दो। आप लोगों ने इतने मौके कांग्रेस और आकली दल को दिए, एक मौका बस लोग आम आदमी पार्टी को दो। मैं भरोसा देता हूं कि आप सारी पार्टियों को भूल जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...