1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले जमकर बरसे गृह मंत्री शाह, 300 से ज्यादा सीटें जीतने का रखा लक्ष्य

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले जमकर बरसे गृह मंत्री शाह, 300 से ज्यादा सीटें जीतने का रखा लक्ष्य

Home Minister Shah rained heavily before the Uttar Pradesh assembly elections; उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ नें गृह मंत्री अमित शाह ने निषाद समाज की 'सरकार बनाओ, अधिकार पाओ' रैली को संबोधित किया। अमित शाह ने रखा 300 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य। सपा, बसपा और कांग्रेस पर किया जमकर हमला।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले लखनऊ में गृह मंत्री अमित शाह ने निषाद समाज की ‘सरकार बनाओ, अधिकार पाओ’ रैली को संबोधित किया। इस दौरान अमित शाह ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 300 से ज्यादा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा। इतना ही नहीं शाह ने सपा, बसपा और कांग्रेस पर जमकर हमला किया।

अमित शाह ने कहा कि, ‘हम 2022 के यूपी विधानसभा चुनाव में 300 से ज्यादा सीटें जीतेंगे. सपा, बसपा, कांग्रेस ने कई सालों तक देश और उत्तर प्रदेश में शासन किया, लेकिन गरीबों के घर में न रसोई गैस पहुंची, न शौचालय बना।’

गृह मंत्री ने कहा कि मैं आप सभी से पूछना चाहता हूं कि ये सपा, बसपा, कांग्रेस ने कई सालों तक देश और प्रदेश में शासन किया, आपको क्या दिया? मोदी सरकार ने गरीबों के जीवन स्तर उठाने के लिए गैस, शौचालय, घर, स्वास्थ्य बीमा जैसी अनेक सुविधाएं दी।

शाह ने कहा कि जिस प्रदेश में माफिया, गुंडों का राज होता है, वहां गरीब का विकास कभी नहीं होता। गरीब का विकास तभी होता है जब कानून का राज हो। सपा-बसपा की सरकारें माफियाओं को संरक्षण देती थी। योगी सरकार में सारे माफिया पलायन कर गये हैं।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में सपा, बसपा की सरकारें बनी, तो उन्होंने सिर्फ अपनी जाति के लोगों के लिए काम किया। सभी पिछड़ी जातियों, सभी गरीबों के हित में काम नरेन्द्र मोदी ने किया। सालों से एक अलग मंत्रालय बनाने की मांग थी। 2019 में मोदी जी ने पिछड़े समाज को लिए एक अलग मंत्रालय बनाकर उस मांग को पूरा किया।

अमित शाह ने कहा कि, ‘आने वाले समय में उत्तर प्रदेश में जो भाजपा सरकार बनने वाली है वो निषाद समाज के बाकी सभी एजेंडे को पूरा करने का काम करेगी। मोदी सरकार ने देशभर में 3 करोड़ से अधिक मछुआरों के लिए अलग मत्स्य मंत्रालय का गठन किया और इंफ्रास्ट्रक्चर में करीब 7,000 करोड़ रुपये का निवेश करने का काम किया है।’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...