Home देश ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव: बीजेपी-ओवैसी और TRS के बीच कड़ी टक्कर, आज से वोटिंग शुरू

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव: बीजेपी-ओवैसी और TRS के बीच कड़ी टक्कर, आज से वोटिंग शुरू

2 second read
0
5

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव के लिए आज वोट डाले जाएंगे। हैदराबाद में होने वाले स्थानीय निकाय चुनाव काफी दिलचस्प हो गए हैं। ये निकाय चुनाव इसलिए भी ख़ास बन गए हैं क्योंकि एक के बाद एक बीजेपी के कई बड़े नेता हैदराबाद में चुनावी रैलियां कर रहे हैं।

जानकारी के लिए बात दे कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव में 150 पार्षद चुने जाने हैं, जिन पर शहर में प्रशासन और आधारभूत ढांचे के निर्माण की ज़िम्मेदारी होती है। इमारत व सड़क निर्माण, कूड़े का निपटारा, सरकारी स्कूल, स्ट्रीट लाइट, सड़कों का रखरखाव, शहर योजना, साफ-सफाई और स्वास्थ्य ऐसे मसले हैं जो नगर निगम संभालता है।

आप को बता दे कि इस समय 1122 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इस चुनाव को बीजेपी ने इस बार दिलचस्प बना दिया है। दरअसल, हैदराबाद को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का गढ़ माना जाता है और बीजेपी ओवैसी के गढ़ में सेंध लगाने की कोशिश में जुटी हुई है।

जिसकी शुरुआत बीजेपी ने निकाय चुनाव में अपना आधार मजबूत करने से कर दी है। आप को बता दे कि वोटिंग सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक होगी और नतीजों की घोषणा चार दिसंबर को होगी। दुब्बका उपचुनाव में टीआरएस के ख़िलाफ़ बड़ी जीत के बाद बीजेपी निकाय चुनाव में पूरी ताक़त के साथ उतर आई है।

आप को बता दे कि पिछली बार इस चुनाव में तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की पार्टी लंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने बाजी मारी थी। टीआरएस को 99 सीटों पर जीत मिली थी। वहीं, असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के खाते में भी 44 सीटें गई थीं। लेकिन इस बार बीजेपी ने इस लड़ाई को त्रिकोणीय बना दिया है।

उस चुनाव बीजेपी का प्रदर्शन यहां कुछ खास नहीं रहा। बीजेपी दहाई की गिनती में भी सीटें नहीं जीत पाई थी। बीजेपी को पिछले चुनाव में महज चार सीटें ही मिली थी। इसके बाद कांग्रेस को दो वार्ड और टीडीपी को एक वार्ड में जीत मिली थी।

आप को बता दे कि बीजेपी ने स्मृति ईरानी, जेपी नड्डा, अमित शाह, प्रकाश जावड़ेकर, योगी आदित्यनाथ, देवेंद्र फडनवीस, तेजस्वी सूर्या जैसे नेताओं को निकाय चुनावों के लिए मैदान में उतारा थे।

इसी बीच तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ आपात बैठक की। उन्होंने खुफ़िया सूचना के आधार पर राज्य में अराजक तत्वों के सांप्रदायिक हिंसा फैलाने को लेकर चेतावनी है।

राष्ट्रवाद, अवैध प्रवासी, जिन्ना, वंशवाद की राजनीति और सर्जिकल स्ट्राइक जैसे कुछ मसले चुनाव अभियान का एजेंडा बन गए हैं। लेकिन, बीजेपी के स्टार प्रचारक अपने भाषणों में शायद ही किसी स्थानीय मुद्दे का ज़िक्र कर रहे हैं। स्मृति ईरानी, प्रकाश जावड़ेकर, तेजस्वी सूर्या, देवेंद्र फडनवीस हैदराबाद में प्रचार कर चुके हैं।

Load More In देश
Comments are closed.