1. हिन्दी समाचार
  2. business news
  3. एशिया के दूसरे सबसे अमीर नहीं रहे गौतम अडानी, तीन दिन में गंवाए 70,000 करोड़ रुपये

एशिया के दूसरे सबसे अमीर नहीं रहे गौतम अडानी, तीन दिन में गंवाए 70,000 करोड़ रुपये

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : एशिया के रईसों में दूसरे स्थान पर रहने वाले गौतम अडानी, लुढ़कर तीसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। हालांकि इस दौरान उनके नेटवर्थ में करीब 9.4 अरब डॉलर (करीब 70 हजार रूपये) की गिरावट आ चुकी है। इसका प्रमुख कारण शेयर मार्केट में लगातार अडानी ग्रुप के शेयरों के डाउन होना है।

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स के मुताबिक गौतम अडानी का नेटवर्थ सिर्फ बुधवार को करीब 4 अरब डॉलर घटकर 67.6 अरब डॉलर रह गया। इस भारी गिरावट की वजह से ही चीन के कारोबारी Zhong Shanshan फिर एशिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए हैं, जबकि उनकी नेटवर्थ में भी गिरावट आई है। वहीं, करीब 84.5 अरब डॉलर के नेटवर्थ के साथ मुकेश अंबानी एशिया के सबसे रईस व्यक्ति के स्थान पर काबिज है यानी की पहले स्थान पर है।

क्यों पिट रहे अडानी ग्रुप के शेयर

गौरतलब है कि इस सोमवार से ही अडानी ग्रुप के शेयरों में  लगातार गिरावट हो रही है। आज यानी गुरुवार को भी अडानी पोर्ट्स ऐंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन के शेयर आज बीएसई में करीब 8.5 फीसदी टूटकर 645.35 रुपये पर पहुंच गए। इसके अलावा अडानी ट्रांसमिशन, अडानी पावर और अडानी टोटल गैस के शेयरों में भी आज 5 फीसदी का लोअर सर्किट लगाना पड़ा।

सोमवार को यह खबर आई कि नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड (NSDL) ने तीन विदेशी फंडों के अकाउंट पर रोक लगा दी है। इन फंडों ने अडानी ग्रुप की कंपनियों में 43,500 करोड़ रुपये का निवेश किया है। इसकी वजह से अडानी समूह की कंपनियों के शेयर सोमवार को गोता लगाने लगे। ज्यादातर शेयरों में लोअर सर्किट लगाना पड़ा। मंगलवार, बुधवार को भी अडानी समूह के कई शेयरों में लोअर सर्किट लगाना पड़ा।

सिर्फ तीन कारोबारी सत्रों में आई इतनी गिरावट

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स के अनुसार पिछले हफ्ते शुक्रवार को शेयर बाजार बंद होते समय गौतम अडानी का नेटवर्थ 77 अरब डॉलर करीब था। यानी सिर्फ तीन कारोबारी सत्रों में गौतम अडानी के नेटवर्थ में करीब 9.4 अरब डॉलर (करीब 70 हजार करोड़ रुपये) की गिरावट आ चुकी है।

सोमवार दोपहर बाद अडानी समूह ने इस बारे में बयान जारी करते हुए कहा कि ये खबर पूरी तरह निराधार है। एनएसडीएल ने भी इससे इंकार किया। इससे अडानी ग्रुप के शेयरों में थोड़ा सुधार तो हुआ, लेकिन वे पूरी तरह से रिकवर नहीं हो पाए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads