Home उत्तर प्रदेश कोरोना के डर से लोगों ने बच्चे की अर्थी को कंधा देने से किया इंकार, पिता ने नाले के पास कब्र खोद कर किया दफन

कोरोना के डर से लोगों ने बच्चे की अर्थी को कंधा देने से किया इंकार, पिता ने नाले के पास कब्र खोद कर किया दफन

3 second read
0
9

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

उत्तर प्रदेश : कोरोना से हालात दिन-ब-दिन बद्तर होते जा रहे हैं । इस बीच एक मार्मिक घटना सामने आयी है । जहां लोगों ने एक बच्चे की लाश को कंधा नहीं दिया । ऐसे में पिता को नाले के पास गड्ढा खोदकर अपने बेटे की लाश को दफन करना पड़ा । दरअसल, कोरोना संकट को बढ़ता देख लोगों के मन में डर बैठ गया है, जिसके चलते लोगों ने बच्चे की अर्थी को कंधा नहीं दिया । हालांकि, बता दें कि बच्चे की मौत कोरोना संक्रमण से नहीं हुई है ।

लखनऊ के चिनहट थाना क्षेत्र में रहने वाले सूरजपाल का 13 साल का बेटे को पिछले 1 हफ्ते से तेज बुखार था । बच्चे के पिता घर पर ही दवा देकर उसका इलाज कर रहे थे । लेकिन बच्चे की हालत ज्यादा बिगड़ गयी और मौत हो गयी । जिसके बाद पिता ने जब बेटे की अर्थी को कंधा देने के लिए पड़ोसियों से मदद मांगी तो कोरोना संक्रमण की डर से सभी ने बेटे को कंधा देने से मना कर दिया । वहीं, रिश्तेदारों ने भी हाथ खड़े कर दिए ।

ऐसी हालत में मजबूर होकर पिता बेटे की लाश कंधे पर लेकर चिनहट के लौलाई उप केंद्र पहुंच गए । जहां उन्होंने नाले के पास कब्र खोदकर बेटे की लाश को दफना दिया । बच्चे की मौत के बाद घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल है ।

मृतक बेटे के पिता सूरजपाल के मुताबिक, बेटे की मौत बुखार से हुई थी और उसने कंधा देने के लिए लोगों से मदद मांगी । लेकिन लोग कोरोना संक्रमण के डर से कंधा देने के लिए शामिल नहीं हुए और बताते रहे कि हम क्वॉरनटीन हैं । रिश्तेदार लॉकडाउन का बहाना बनाकर शामिल नहीं हुए । उसके बाद उन्होंने खुद कंधे पर बेटे का शव ले जाकर उसको दफना दिया । उन्होंने कहा कि हमारा बेटा कोविड-19 पॉजिटिव नहीं था ।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.