Home उत्तर प्रदेश यूपी में पंचायत चुनावों कोे लेकर सीएम योगी का फॉर्मूला तय, देखें पूरी लिस्ट

यूपी में पंचायत चुनावों कोे लेकर सीएम योगी का फॉर्मूला तय, देखें पूरी लिस्ट

1 second read
0
223

रिपोर्ट : मोहम्मद आबिद
लखनऊ : उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनावों को लेकर त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2021 की तैयारियां जोरों पर हैं और अब चुनावों के लेकर आरक्षण नीति और शासन के आदेश को लेकर पंचायती राज विभाग ने अधिसूचना जारी कर दी है।

एसीएस मनोज कुमार सिंह ने अधिसूचना जारी करते हुए कहा की प्रदेश के 826 ब्‍लॉक, 58194 ग्राम पंचायतों का गठन किया जा चुका है. आरक्षण नीति में 1995 से 2015 में हुए आरक्षण को संज्ञान में रखा गया है। उन्‍होंने बताया कि एससी, ओबीसी, महिला क्रम में पिछले चुनावों को देखते हुए आरक्षण लागू किया जाएगा. जो पद पहले कभी आरक्षित नहीं हुए, उनको आरक्षण में व‍रीयता दी जाएगी.

एसीएस मनोज कुमार सिंह ने कहा की उत्तर प्रदेश में दो जिला पंचायत के लिए आज तक एससी / एसटी के लिए नहीं आरक्षित हुई हैं और 7 पंचायतें महिलाओं के लिए आरक्षित नहीं हुई हैं। एसीएस के मुताबिक पंचायत चुनाव में 2015 में जो आरक्षण की स्थिति थी, वह इस चुनाव में नहीं होगी।

बतादें की जो पद शेड्यूल कास्ट या फिर शेड्यूल कास्ट (महिला) के लिए हैं, वे इस बार अनारक्षित व ओबीसी के हो सकते हैं. कोई भी ऐसा पद जो  शेड्यूल कास्ट के लिए आरक्षित नहीं हुआ, वह SC के लिए आरक्षित हो सकता है।

 

जिला पंचायत अध्यक्ष आरक्षण सूची जारी

पंचायत चुनाव में जिला पंचायत अध्यक्ष के 27 पद अनारक्षित

12 महिला, 27ओबीसी और 16 एससी में आरक्षित किये गए।

पूरा लखनऊ मंडल अनुसूचित जाति वर्ग को अनुसूचित जाति स्त्री के खाते में आरक्षित

लखनऊ, कौशांबी, सीतापुर, हरदोई, बागपत, शामली

अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट

कानपुर, औरैया, चित्रकूट, महोबा, झांसी, जालौन, बाराबंकी, खीरी, रायबरेली, मिर्जापुर

सामान्य सीट

सुल्तानपुर, शाहजहांपुर, सिद्धार्थनगर,मुरादाबाद, बिजनौर, रामपुर, अमरोहा, मेरठ, बुलंदशहर, गाजियाबाद, नोएडा, उन्नाव, भदोही, अलीगढ़, हाथरस, आगरा, मथुरा, प्रयागराज, फतेहपुर कानपुर देहात, गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज, गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती, अयोध्या।

महिलाओं के लिए 12 जिले आरक्षित हुए

कासगंज, फिरोजाबाद, मैनपुरी, मऊ,प्रतापगढ़,कन्नौज,हमीरपुर, बहराइच,अमेठी,गाजीपुर

जौनपुर और सोनभद्र स्त्री के लिए आरक्षित

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.