1. हिन्दी समाचार
  2. अलीगढ़
  3. अलीगढ़ – संघ के मेरठ प्रांत प्रचारक के भाई को गोली मारी

अलीगढ़ – संघ के मेरठ प्रांत प्रचारक के भाई को गोली मारी

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

अलीगढ़ के थाना दादों क्षेत्र के गांव समेना ततारपुर के मूल निवासी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के मेरठ प्रांत प्रचारक धनीराम सिंह के बड़े भाई डॉ. सुग्रीव को गांव में गोली मार दी गई। घटना देर शाम उस वक्त हुई, जब वे खेत पर पानी लगाने गए थे।

जैसे ही यह खबर जिला मुख्यालय तक आई तो पुलिस के साथ-साथ संघ व भाजपा के दिग्गज नेताओं में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन घायल को जिला अस्पताल लाया गया। जहां काफी संख्या में भाजपा व संघ के नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ था। इस घटना के मूल में गांव की जमीनी रंजिश निकलकर आ रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव में डॉक्टर के नाम से मशहूर 60 वर्षीय डॉ. सुग्रीव यादव पुत्र ओमप्रकाश के छोटे भाई धनीराम सिंह संघ के मेरठ प्रांत प्रचारक हैं। परिवार गांव में ही रहता है।

 

परिवार के अनुसार सुग्रीव यादव गांव से बाहर अपने खेतों पर पानी लगाने गए थे। तभी कुछ लोगों ने घेरकर फायरिंग कर दी। इस हमले में एक गोली उनके सीधे पैर में टखने से नीचे लग गई।

फायरिंग की आवाज व खुद सुग्रीव यादव के शोर पर गांव से लोग दौड़ पड़े तो हमलावर भाग गए। इस सूचना पर एसओ दादों अजब सिंह मय फोर्स के पहुंच गए। आनन-फानन पुलिस जीप से उन्हें जिला अस्पताल भिजवाया गया।

इधर, कुछ ही देर में खबर पूरे गांव मे फैल गई। जिला अस्पताल में आरएसएस के राष्ट्रीय पदाधिकारी दिनेश कुमार, वरिष्ठ नेता ठा.श्यौराज सिंह, जिलाध्यक्ष भाजपा ऋषिपाल सिंह, पूर्व मंत्री ठा.जयवीर सिंह, विधायक संजीव राजा, रवेंद्रपाल सिंह, राजकुमार सहयोगी, वरिष्ठ नेता डॉ. राजीव अग्रवाल, एबीवीपी के प्रदेश मंत्री बल्देव शीटू चौधरी, शिवनारायण शर्मा सहित तमाम लोग वहां पहुंच गए।

घायल के इलाज की तमाम व्यवस्थाओं को दुरुस्त कराने के लिए सीएमएस को वहीं बुला लिया गया। देर रात उनके पैर का एक्स-रे कराया जा रहा था। इधर, सीओ अतरौली प्रशांत सिंह भी यहां पहुंच गए थे।

गांव में व जिला अस्पताल में फॉरेंसिक टीम ने भी पहुंचकर साक्ष्य संकलित किए थे। इस हमले में गांव के ही चार-पांच लोगों के नाम उजागर हो रहे हैं। जिनसे जमीनी विवाद की बात निकलकर आ रही है।

प्रारंभिक जांच में गांव व परिवार से मिली जानकारी के अनुसार एक खेत की मेंड़ को लेकर 15 दिन पहले गांव के ही कुछ लोगों से झगड़ा हुआ था। उसी झगड़े में इस हमले का अनुमान लगाया जा रहा है। कुछ लोगों के नाम भी बताए जा रहे हैं। जो भी तहरीर मिलेगी, उसी के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...