Home उत्तर प्रदेश बलरामपुर: परिजनों के आक्रोश और इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स की तैनाती

बलरामपुर: परिजनों के आक्रोश और इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स की तैनाती

2 second read
0
3

बलरामपुर: परिजनों के आक्रोश और इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स की तैनाती

बलरामपुर :उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध को लेकर योगी सरकार इस कदर घिरी कि मुख्यमंत्री को कहना पड़ा कि यूपी में माताओं-बहनों के सम्मान को क्षति पहुंचाने वालों को ऐसा दंड दिया जाएगा जो भविष्य के लिए उदहारण बनेगा।

हाथरस के बाद बलरामपुर में 22 साल की छात्रा से हुई गैंगरेप की घटना भी सुर्खियों में है। कॉलेज में एडमिशन के लिए निकली छात्रा के साथ ऐसी दरिंदगी हुई कि अस्पताल ले जाते समय उसने दम तोड़ दिया।

पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है लेकिन पीड़िता की मां इस कार्रवाई से संतुष्ट नहीं है। मां ने कहा कि घटना के सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए न्याय नहीं मिला तो आरोपियों को घर जलाकर चौराहे पर आत्मदाह कर लेंगे।

पीड़िता के परिजनों का कहना है कि इस घटना में पांच-छह लोग शामिल थे लेकिन पुलिस ने सिर्फ दो लोगों को पकड़ा है। परिजनों ने पुलिस-प्रशासन पर मामले को दबाने का आरोप लगाया।

शुक्रवार को आक्रोशित मां ने कहा कि इंसाफ के लिए मैं सड़क पर उतरूंगी। हम आरोपियों का घर फूंक देंगे और चौराहे पर आत्मदाह कर लेंगे। परिजनों के आक्रोश और इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है।

वहीं पुलिस प्रशासन परिजनों को समझाने बुझाने में लगा है। केस की विवेचना कर रहे सीओ उतरौला राधारमण सिंह ने कहा कि परिजनों को बताया गया है कि सबूतों को आधार पर जो भी दोषी होगा उसको बख्शा नहीं जाएगा। छानबीन में और लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.