Home उत्तराखंड उत्तराखंड में पर्यटन व अन्य गतिविधियों को रफ्तार देने के लिए उद्योगों को साथी एप से जोड़ने पर जोर

उत्तराखंड में पर्यटन व अन्य गतिविधियों को रफ्तार देने के लिए उद्योगों को साथी एप से जोड़ने पर जोर

0 second read
0
0

देहरादून: प्रदेश सरकार उत्तराखंड में पर्यटन व अन्य गतिविधियों को रफ्तार देने के लिए उद्योगों को साथी एप से जोड़ने पर जोर दे रही है। अभी तक पर्यटन से जुड़ी 320 इकाइयां इसके लिए पंजीकरण कर चुकी हैं। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने सभी हितधारकों को इससे जुड़ने की अपील की है।

केंद्र सरकार द्वारा कुछ समय पूर्व साथी (आतिथ्य उद्योग के लिए मूल्यांकन, जागरूकता और प्रशिक्षण के लिए प्रणाली) एप की लांचिंग की। इस एप में संबंधित उद्योग के संबंध में पूर्ण जानकारी होती है। यह पहल वर्तमान में होटल, रेस्तरां व होमस्टे पर लागू है। साथी एप को तीन चरणों में विभाजित किया गया है। इसमें कोरोना के दिशा-निर्देशों का सही तरीके से पालन करने के लिए सेल्फ सर्टिफिकेशन की सुविधा है।

क्षमता निर्माण होटल व्यवसायी, रेस्तरां और अन्य लोगों की क्षमता बढाने में मदद करेगा। सूबे के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि साथी एप के जरिये कोरोना के माहौल के बीच आतिथ्य उद्योग की चुनौतियों से निपटने में मदद मिलेगी। महाराज ने कहा कि वे उत्तराखंड के सभी संबंधित हितधारकों से अनुरोध करते हैं कि वे इस पहल में सक्रिय रूप से खुद को पंजीकृत करें और इसका पूरा लाभ उठाएं।

उन्होंने कहा कि साथी को अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए इसे सोशल साइट मेक माई ट्रिप व गो आईबीबो के साथ जोड़ा जा सकता है, ताकि बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंच बनाई जा सके। सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने कहा कि उत्तराखंड में साथी पहल के तहत 320 से अधिक इकाइयां पहले ही अपना पंजीकरण करा चुकी हैं। साथी राज्य में पर्यटन उद्योग में हितधारकों को सशक्त करेगा।

Load More In उत्तराखंड
Comments are closed.