Home उत्तराखंड कोरोना के चलते खराब आर्थिक स्थिति का सामना कर रहे रोडवेज प्रबंधन ने अगस्त के वेतन के लिए तलाशा नया फॉर्मूला

कोरोना के चलते खराब आर्थिक स्थिति का सामना कर रहे रोडवेज प्रबंधन ने अगस्त के वेतन के लिए तलाशा नया फॉर्मूला

3 second read
0
6

देहरादून: कोरोना के चलते खराब आर्थिक स्थिति का सामना कर रहे रोडवेज प्रबंधन ने अगस्त के वेतन के लिए नया फॉर्मूला तलाश लिया है। अब विशेष श्रेणी और संविदा के उन्हीं कर्मचारियों को अगस्त का पूरा वेतन दिया जाएगा, जो नवंबर में न्यूनतम 15 दिन ड्यूटी पर मौजूद रहे। जो इससे कम दिन ड्यूटी पर रहे, उन्हें अगस्त में किए गए वास्तविक किलोमीटर के आधार पर वेतन मिलेगा।

पहले यह तय किया जा रहा था कि जिन विशेष श्रेणी और संविदा चालक-परिचालक ने नवंबर और दिसंबर में 15-15 दिन बस संचालन किया होगा, उन्हें ही अगस्त माह का पूरा वेतन दिया जाएगा। इससे रोडवेज कर्मचारी यूनियन के तेवर तल्ख हो गए व यूनियन ने कार्य बहिष्कार की चेतावनी भी दे डाली।

इस मसले पर यूनियन के प्रांतीय महामंत्री अशोक कुमार चौधरी ने सोमवार को मुख्यालय में महाप्रबंधक दीपक जैन से मुलाकात कर अपना पक्ष रखा। चौधरी ने कहा कि मुख्यालय के आदेश के मुताबिक बस संचालन में पहले नियमित चालक और परिचालक की ड्यूटी लगाई जा रही। इसके बाद में विशेष श्रेणी व संविदा कर्मचारियों की। सीमित संख्या में बस संचालन होने के कारण विशेष श्रेणी व संविदा चालक और परिचालक की बस पर ड्यूटी ही नहीं लग पा रही।

चौधरी ने बताया कि ये कर्मचारी डिपो में उपस्थित जरूर हो रहे। ऐसे में इन कर्मचारियों का वेतन न देना अनुचित गलत होगा। वार्ता के बाद प्रबंधन ने आदेश कर दिए कि जो कर्मचारी 15 दिन उपस्थित रहे, चाहे बस संचालन किया हो या नहीं, उन्हें अगस्त का वेतन दिया जाएगा। महाप्रबंधक ने चेतावनी भी दी कि अगर हाजिरी पंजिका में कांट-छांट पाई गई तो डिपो एजीएम और वरिष्ठ-कनिष्ठ केंद्र प्रभारी समेत समयपाल के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

रोडवेज में तीन अफसरों के तबादले

रोडवेज के प्रबंध निदेशक रणवीर सिंह चौहान ने सोमवार को तीन अफसरों के तबादले कर दिए। दिल्ली आइएसबीटी पर तैनात डीजीएम जेके शर्मा को मंडलीय प्रबंधक तकनीकी देहरादून बनाया गया है। शर्मा ने पारिवारिक कारणों का हवाला देकर तबादले की मांग की थी। रुड़की डिपो के एजीएम आलोक बनवाल को आइएसबीटी दिल्ली का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। प्रबंध निदेशक की ओर से किए तबादले में लोहाघाट डिपो के प्रभारी एजीएम राजेंद्र कुमार आर्य को पिथौरागढ़ डिपो एजीएम जबकि ऋषिकेश डिपो के सीनियर फोरमैन नरेंद्र कुमार को लोहाघाट डिपो का प्रभारी एजीएम बनाया गया है।

 

Load More In उत्तराखंड
Comments are closed.