1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. प्रेम-प्रसंग में अडंगा डालने पर लड़की ने भरी पंचायत में प्रधानपति को मारी गोली, पुलिस से बोली-जीना हराम कर रखा था

प्रेम-प्रसंग में अडंगा डालने पर लड़की ने भरी पंचायत में प्रधानपति को मारी गोली, पुलिस से बोली-जीना हराम कर रखा था

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

कन्नौज: यूपी के कन्नौज जिले से एक ऐसी खबर सामने आ रही है, जिसे जानकर आपके भी होश उड़ जायेंगे। यहां के हीरापुरवा प्रधान के पति को भरी पंचायत में एक युवती ने गोलियों से भून दिया। युवती ने वारदात के इसलिए अंजाम दिया कि वह इंतकाम की आग में जल रही थी। युवती ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर साजिश रची और प्रधानपति को पंचायत करने के लिए बुला लिया।

बुलाई गई पंचायत में जब तमाम लोग आ गये तभी युवती ने प्रधानपति को गोली गोली मारकर साथियों के साथ फरार हो गई। पुलिस ने युवती समेत तीन को गिरफ्तार कर लिया है। प्रधानपति की हत्या रविवार को की गई थी।

आपको बता दें कि प्रधान रामश्री के पति रामशरण की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि नामजद पांच में से दो आरोपित श्याम बिहारी व उसका भाई हेमचंद्र के डहलेपुर स्थित बाग में होने की सूचना मिलने के बाद दोनों को पकड़ लिया। पूछताछ में दोनों ने बताया कि गोली गांव के ही संतराम की बेटी सीमा ने चलाई थी। पुलिस ने सीमा को उसके घर से पकड़ लिया।

पुलिस ने दावा किया है कि सीमा ने हत्या स्वीकार करते हुए बताया कि रामशरण ने उसका जीना मुश्किल कर रखा था। उसने आगे बताया कि उत्पीड़न की इंतहा हो गई थी। उसने बदला लेने के लिए हत्या की। दूसरी ओर प्रधान के पुत्र दीपक द्वारा दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया गया था कि उसके पिता को एक विवाद के निपटारे के लिए हो रही पंचायत में बुलाया गया था। उसी दौरान दूसरे पक्ष ने गोली मार कर हत्या कर दी।

जिसके बाद पांच लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। वारदात के बाद से पांचों हत्यारोपित फरार चल रहे थे। पुलिस उनकी तलाश में लगी हुई थी। प्रधानपति की हत्या में युवती का नाम आने के बाद हर कोई चौंक रहा है। पहले उसका कहीं जिक्र नहीं था। सदर कोतवाल विकास राय ने बताया कि पूछताछ में युवती ने बताया कि आरोपित श्याम बिहारी से उसका प्रेम-प्रसंग था, लेकिन प्रधान पति रामशरण दोनों की नजदीकियों से चिढ़ता था।

युवती ने आगे बताया कि प्रधान पति नहीं चाहता था कि श्याम बिहारी और वह एक-दूसरे से मिलें। इसलिए वह प्रधान पति से नफरत करने लगी थी। ऐसे में श्याम बिहारी ने उसकी हत्या की साजिश रची। वह गोली मारने को तैयार हो गई। प्लान बनाकर पंचायत के लिए बुलाकर उसकी हत्या कर दी। वारदात के बाद पुलिस ने पांच के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी। लेकिन जांच के दौरान तीन और नाम सामने आए हैं। उसे असलहा सप्लाई करने में पटियन निवासी वेदराम और भुप्पा का नाम सामने आया है। पुलिस ने उन सभी के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

आपको बता दें कि प्रधान पति की हत्या में नामजद श्यामबिहारी का प्रेम-प्रसंग सीमा से चल रहा था। उधर श्याम बिहारी की शादी कहीं और तय हो गई थी। इसे लेकर विवाद निपटारे के बहाने पंचायत बुलाई गई। श्याम बिहारी की शादी सदर कोतवाली के ही हरदोई रोड स्थित बक्शीपुर्वा में तय हुई है। 24 जून को ही उसकी बारात जानी थी। लेकिन उसके पहले ही यह हत्याकांड हुआ और उसे जेल जाना पड़ा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads