Home उत्तर प्रदेश सपा विधायक का कोरोना वैक्सीन को लेकर अजीबो-गरीब बयान

सपा विधायक का कोरोना वैक्सीन को लेकर अजीबो-गरीब बयान

2 second read
0
7

सपा विधायक का कोरोना वैक्सीन को लेकर अजीबो-गरीब बयान

कोरोना वायरस वैक्सीन पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव द्वारा सवाल उठाए जाने के बाद अब उनकी पार्टी के एक विधायक ने कोरोना वैक्सीन को लेकर एक अजीबो-गरीब बयान दिया है।

एसपी एमएलएसी आशुतोष सिन्हा ने शनिवार को कहा कि बीजेपी सरकार द्वारा लाई जा रही वैक्सीन से कुछ भी हो सकता है। उन्होंने वैक्सीन से नपुंसक होने तक का दावा कर डाला।

एसपी एमएलएसी आशुतोष सिन्हा ने कहा कि, सपा सुप्रीमो ने तथ्यों के आधार पर ही बयान दिया होगा, हमें लगता है कि कहीं ना कहीं उस वैक्सीन में ऐसी चीज होगी कि नुकसान हो जाए बीजेपी वाले बाद में कह दें कि हमने जनसंख्या कम करने और नपुंसक बनाने के लिए वैक्सीन लगा दी।

उन्होंने अखिलेश यादव की बात का समर्थन करते हुए कहा कि, अगर उन्होंने इसे वैक्सीन न लगाने की बात कही है तो जरूर इसके पीछे कोई गंभीर तथ्य होगा।

सिन्हा ने कहा कि, ये जो सरकार है उत्तर प्रदेश की और देश की, ये ऐसी सरकार है कि जहां ऑक्सिजन के अभाव में गोरखपुर में बच्चे मर गए, जो प्रदेश के मुख्यमंत्री का गृहजनपद है और वहां दो-चार दिन पहले वह दौरा करके आए थे।

इस सरकार योगी सरकार के तंत्र पर हम लोग बहुत विश्वास नहीं कर रहे हैं लेकिन अगर अखिलेश यादव जी ने यह बात कही है कोरोना वैक्सीन न लगाने की तो जरूर तथ्यों के आधार पर कही होगी।

उन्होंने कहा, इसलिए अगर अखिलेश यादव जी ने कहा है तो मुझे लगता है कि सिर्फ समाजवादी पार्टी नहीं बल्कि पूरे प्रदेश की जनता को वैक्सीन नहीं लगवाना चाहिए।

बता दें कि, शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अखिलेश यादव ने कहा था कि, फिलहाल वह कोरोना का टीका नहीं लगवा रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं बीजेपी की वैक्‍सीन पर कैसे भरोसा कर सकता हूं, जब हमारी सरकार बनेगी तो सभी को फ्री में टीका लगेगा। हम बीजेपी की वैक्‍सीन नहीं लगवा सकते।

हालांकि उन्होंने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा था कि, उन्हें देश के वैज्ञानिकों पर भरोसा है लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार के मेडिकल सिस्टम पर भरोसा नहीं है। इसलिए वह कोरोना की वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं। उन्होंने आगे यह भी कहा कि जब एसपी सरकार सत्ता में आएगी तब वह फ्री में कोरोना की वैक्सीन लगाएंगे।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.