Home दिल्ली पिंक लाइन को भी जल्द ड्राइवरलेस मेट्रो की सौगात

पिंक लाइन को भी जल्द ड्राइवरलेस मेट्रो की सौगात

0 second read
0
8

अब जल्द ही पिंक लाइन को भी चालक रहित मेट्रो की सौगात

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने शनिवार को बताया कि जल्द ही दिल्ली वालों को पिंक लाइन पर भी चालक रहित ड्राइवरलेस मेट्रो में बैठने का मौका मिलेगा। साल 2021 के मध्य तक 59 किमी लंबी पिंक लाइन पर भी ड्राइवरलेस मेट्रो दौड़ने लगेगी।

बता दें कि जनकपुरी वेस्ट से बॉटनिकल गार्डन के बीच 37 किमी लंबी मैजेंटा लाइन को पहले ही ड्राइवरलेस मेट्रो बनाया जा चुका है। अब जल्द ही पिंक लाइन को भी चालक रहित मेट्रो की सौगात मिलने वाली है।

बता दें कि दिल्ली में मजलिस पार्क से शिव विहार को जोड़ने वाली 59 किमी लंबी पिंक लाइन पर बड़ी संख्या में लोग मेट्रो में चढ़ते हैं। इस बीच पिंक लाइन पर ड्राइवरलेस मेट्रो चलाने की अनुमति मिल गई है।

बता दें कि पिछले वर्ष के अंत में 28 दिसंबर, 2020 को दिल्ली मेट्रो ने जनकपुरी पश्चिम से चलकर बॉटेनिकल गार्डन जाने वाली मेट्रो मजेंटा लाइन को ड्राइवरलेस मेट्रो में परिवर्तित कर दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने इसे हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था।

डीएमआरसी के मुताबिक़, अभी भी ज्यादातर ट्रेन को रिमोट कंट्रोल के द्वारा ऑपरेशन रूम से नियंत्रित किया जाता है, जिसे ऑपरेशंस कंट्रोल सेंटर या ओसीसी कहते हैं। यहां से इंजीनियरों की टीमें पूरे नेटवर्क में रियल टाइम ट्रेन मूवमेंट पर नज़र रखती हैं। ये एयर ट्रैफिक कंट्रोल की तरह होता है।

डीएमआरसी के पास अभी तीन ओसीसी हैं, जिनमें दो मेट्रो मुख्यालय के अंदर और एक शास्त्री पार्क में है। ड्राइवर और ट्रेन ऑपरेटर के पास कितना कंट्रोल है ये इस बात पर निर्भर करता है कि वो किस लाइन पर ट्रेन चला रहे हैं। रेड लाइन और ब्लू लाइन पर ड्राइवर का कंट्रोल ज्यादा होता है। वो ट्रेन की स्पीड से लेकर दरवाजे खुलने और बंद करने तक को कंट्रोल करते हैं।

Load More In दिल्ली
Comments are closed.