1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. थानेदार को घूस में मंहगी मोबाइल मांगना पड़ा भारी, चली गई थानेदार की कुर्सी

थानेदार को घूस में मंहगी मोबाइल मांगना पड़ा भारी, चली गई थानेदार की कुर्सी

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

बरेली: यूपी के बरेली से एक थानेदार द्वारा घूस लेने का ऐसा मामला सामने आया है, जिसे जानकर आप भी दंग रह जायेंगे। थानेदार ने एक प्रधान से घूस में एक मोबाइल फोन की मांग कर दी। लेकिन उसकी ये मांग उसको ही भारी पड़ गया। घूस में मोबाइल लेने के चक्कर में SSP ने थानेदार को लाइन हाजिर कर दिया है। इसके साथ ही अब उसके निलंबन की प्रक्रिया चल रही है। भोजीपुरा थाने में तैनात इंस्पेक्टर अशोक कुमार ने अपने थाना क्षेत्र के ही एक ग्राम प्रधान से मोबाइल फोन की डिमांड कर दी।

थानेदार पर आरोप है कि विपक्षी पार्टी पर कार्रवाई करने के बदले में थानेदार ने ग्राम प्रधान से 50 हजार की कीमत वाले मोबाइल फोन की डिमांड की जिसका चैट WhatsApp पर वायरल हो गया। थानेदार ने जिस ग्राम प्रधान से मोबाइल की डिमांड की गई है, उसी प्रधान के गांव में प्रधानी चुनाव को लेकर वर्तमान ग्राम प्रधान और पूर्व ग्राम प्रधान पक्ष के लोगों में टकराव की स्थिति है।

वहीं लोगों का कहना है कि भोजीपुरा थानेदार अशोक कुमार, पूर्व प्रधान के पैरोकार बने हुए हैं। पीडित प्रधान ने इंस्पेक्टर भोजीपुरा का WhatsApp चैट वायरल कर दिया, जिसकी चर्चा अफसरों तक पहुंच गई। थानेदार ने जिस ग्राम प्रधान से मोबाइल की डिमांड की, उसी ग्राम प्रधान ने बरेली रेंज के आईजी रमित शर्मा और एसएसपी रोहित सिंह सजवाण से मिल कर  लिखित शिकायत दी।

शिकायत मिलने के बाद SSP बरेली ने मामले को गंभीरता से लिया और एक अधिकारी को पूरे प्रकरण की जांच सौंपी। एएसपी ने जांच रिपोर्ट में प्रथम दृष्टया भोजीपुरा थाना प्रभारी अशोक कुमार की भूमिका संदिग्ध मानी है।

SSP की जांच रिपोर्ट के आधार पर भोजीपुरा थाना प्रभारी अशोक कुमार को एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने रविवार रात लाइन हाजिर कर दिया है। अब उनके निलंबर की कार्यवाही की जा रही है। SSP बरेली रोहित सिंह सजवाण ने WhatsApp ग्रुप के माध्यम से जानकारी दी है कि भोजीपुरा थाना प्रभारी के निलंबन की प्रक्रिया जारी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads