Home बिज़नेस राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (दिल्ली-एनसीआर) में घरों की बिक्री साल 2020 के दौरान सालाना आधार पर 50 फीसद की गिरावट के साथ 21234 यूनिट रही

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (दिल्ली-एनसीआर) में घरों की बिक्री साल 2020 के दौरान सालाना आधार पर 50 फीसद की गिरावट के साथ 21234 यूनिट रही

2 second read
0
7

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (दिल्ली-एनसीआर) में घरों की बिक्री साल 2020 के दौरान सालाना आधार पर 50 फीसद की गिरावट के साथ 21,234 यूनिट रही। कोरोना वायरस महामारी के चलते मांग में कमी रहने के कारण पिछले साल घरों की बिक्री में कमी दर्ज की गई। संपत्ति सलाहकार नाइट फ्रैंक इंडिया ने बुधवार को “इंडिया रियल एस्टेट-रेजिडेंशियल एंड ऑफिस अपडेट H2 2020” रिपोर्ट में यह जानकारी दी।

देश के आठ बड़े शहरों में साल 2020 के दौरान आवासीय संपत्ति की बिक्री 37 फीसद गिरकर  1,54,534 यूनिट रही। जबकि, एक साल पहले यह आंकड़ा 2,45,861 यूनिट का था। घरों की बिक्री में सभी आठ प्रमुख शहरों में गिरावट आई है। मांग में सबसे अधिक कमी अहमाबाद और सबसे कम पुणे में देखने को मिली।

नाइट फ्रैंक इंडिया के आंकड़ों के अनुसार, साल 2020 के दौरान पुणें में घरों की बिक्री 18 फीसद की गिरावट के साथ  26,919 यूनिट रही। जबकि, एक साल पहले यह 32,809 यूनिट थी। वही, मुंबई में पिछले साल घरों की बिक्री 20 फीसद की गिरावट के साथ 48,688 यूनिट रही। जबकि साल 2019 में यह 60,943 यूनिट थी। महाराष्ट्र सरकार के संपत्तियों के पंजीकरण पर अस्थायी रूप से स्टांप ड्यूटी में कटौती करने के फैसले के चलते साल 2020 के अंतिम चार महीनों के दौरान मुंबई और पुणे क्षेत्र में अधिक बिक्री हुई।

साल 2020 में बेंगलुरु में घरों की बिक्री 51 फीसद की गिरावट के साथ 23,579 यूनिट रही। यह इससे पिछले साल 48,076 यूनिट रही थी। चेन्नई की बात करें, तो यहां घरों की बिक्री साल 2020 में 49 फीसद गिरकर 8,654 यूनिट रही। जबकि, इससे पिछले साल यह 16,959 यूनिट रही थी। हैदराबाद में आवासीय संपत्ति की बिक्री साल 2020 में 38 फीसद गिरकर पहले के 16,267 यूनिट की तुलना में 10042 यूनिट रही। कोलकाता की बात करें तो यहां घरों की बिक्री साल 2020 में 21 फीसद की गिरावट के साथ 11,266 यूनिट की तुलना में 8,912 यूनिट रही।

Load More In बिज़नेस
Comments are closed.