Home देश नाबालिग बच्ची से बलात्कार के आरोपी को सऊदी से पकड़ लाईं रियल लाइफ ‘सिंघम’, जानें इस महिला IPS की बहादुरी

नाबालिग बच्ची से बलात्कार के आरोपी को सऊदी से पकड़ लाईं रियल लाइफ ‘सिंघम’, जानें इस महिला IPS की बहादुरी

8 second read
0
59

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: भारतीय पुलिस सेवा में जाना याफिर IPS बनना हर किसी का सपना होता है, लेकिन इस सपने को साकार वहीं कर पाता है, जिसके अंदर हौंसला और जूनून होता है। देश में IPS अधिकारियों की बहादुरी के किस्से युवाओं के लिए प्रेरणा का काम करता है। इसी कड़ी में हम आपको एक ऐसी ही IPS अधिकारी मेरिन जोसेफ की बहादुरी के बारे में बतायेंगे, जिनकी बहादुरी आज भी चर्चा का विषय बनीं रहती है।

मेरिन जोसेफ का जन्म 20 अप्रैल 1990 को हुआ था। बचपन से ही पढ़ाई में काफी होनहार थी। जोसेफ का सपना भी था कि वह भारतीय पुलिस सेवा जायेंगी। मेरिन जोसेफ भारतीय पुलिस सेवा में चयनित हुईं, और इनकी ट्रेनिंग हैदराबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल नेशनल पुलिस अकादमीं में संपन्न हुई। परेड कमांडर करने वाले लोगों की लिस्ट में मेरिन सबसे कम उम्र की अधिकारी थी।

मेरिन की बदाहुरी के बारे में कहा जाता है कि इनको महिलाओं और बच्चों से जुड़े मामले को सॉल्व करने में महारत हांसिल है। मेरिन नई दिल्ली स्थित Convent of Jesus और Mary School में पढ़ाई की थी। St. Stephen’s College से उन्होंने एमए (इतिहास) किया था। मेरिन जोसेफ के पिता जोसेफ अब्रहाम कृषि मंत्रालय में प्रमुख सलाहकार रहे हैं और उनकी मां अर्थशास्त्र की शिक्षक रही है। साल 2012 में यूपीएसी की परीक्षा पास करने के बाद मेरिन जोसेफ को 188वां रैंक मिला इसके साथ ही वो भारतीय पुलिस सेवा में चयनित हुई।

मेरिन जोसेफ केरल के कोल्लम जिले में पुलिस कमिश्नर की पद पर तैनात एक केस की जॉच करते-करते अपनी टीम को लेकर सऊदी अरब पहुंच गई। उन्होने सफलता हांसिल करते हुए एक बच्ची के बलात्कारी को वहां से ले आईं। यह कारनामा पहली बार हुआ था, जब किसी अपराधी को सऊदी से भारत वापस लाया गया था। आपको बता दें कि मेरिन जोसफ जब रियाद पहुंची तब उन्हें शायद ये नहीं पता था कि उन्हें ये कैसे करना है, लेकिन उन्हें ये जरूर पता था कि अपराधी सुनील कुमार भड्रान को लेकर वापस भारत आना है।

आपको बता दें कि सुनील कुमार पर एक 13 साल की नाबालिग मासूम बच्ची के यौन शोषण का आरोप था, और वो दो साल से फरार था। सुनील सऊदी में टाइल वर्कर के तौर पर काम करता था। साल 2017 में जब वो छुट्टी मनाने केरल आया तो उस दौरान अपने दोस्त की भतीजी के साथ तीन महीने तक यौन शोषण किया था। इसके बाद वो फरार हो गया। जिसके बाद मेरिन जोसेफ ने उसको भारत लाने में बड़ी कामयाबी हांसिल की थी। उनके इस काबिलियत की काफी चर्चा हुई थी।

Load More In देश
Comments are closed.