Home मनोरंजन रवि किशन ने अश्लील गानों के खिलाफ की कड़े नियमों की मांग, पढ़ें

रवि किशन ने अश्लील गानों के खिलाफ की कड़े नियमों की मांग, पढ़ें

46 second read
0
7

अभिनेता से नेता बने रवि किशन अब संसद में भोजपुरी फिल्मों में अश्लीलता का मुद्दा उठाने और भोजपुरी फिल्मों के लिए एक अलग सेंसर बोर्ड गठित करने की मांग करने को लेकर चर्चा में बने हुए हैं।

View this post on Instagram

#गोरखपुर

A post shared by Ravi Kishan (@ravikishann) on

बॉलीवुड में ड्रग पर सवाल उठाने के बाद अब अभिनेता भोजपुरी फिल्मों में अश्लीलता की सफाई भी करवाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा है कि वह अश्लील गानों के खिलाफ कड़े नियम की मांग करेंगे। हालांकि रवि किशन की ये बात कुछ यूजर्स को पसंद नहीं आई और उन्हें ट्रोल किया जाने लगा।

एक यूजर ने लिखा- ”भोजपुरी में अश्लीलता आपके ही दौर से शुरू हुई है। खुद तो आपने ऐसे-ऐसे गानों पर डांस किया है और अब संस्कारों की गंगोत्री बन रहे हैं।”

एक अन्य ने लिखा है- ”वो राजा चटईया पे बड़ा मजा आए किसका गाना है भला, सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली।”

View this post on Instagram

#gorakhpur

A post shared by Ravi Kishan (@ravikishann) on

एक यूजर ने लिखा- ”पहले रंगीन कपड़ों में कचड़ा फैलाया अब सफेद कपड़े पहन के उसी को साफ करेंगे…..गजब की सोच है। हम ही फैलाएंगे…..हम ही समेटेंगे। खुद के गानों पर भी एक टिप्पणी कर ही दीजिए।”

कुछ ने तो रवि किशन के उन गानों की पूरी लिस्ट ही शेयर कर दी है, जिसे वे अश्लील बता रहे हैं। लोग रवि किशन के खिलाफ खूब जमकर कमेंट कर रहे हैं।

बता दें रवि किशन ने कहा था- ‘कुछ लोग भोजपुरी गानों में अश्लीलता का इस्तेमाल कर भाषा की छवि धूमिल कर रहे हैं इसलिए अब वो इस मामले को संसद में उठाएंगे। भोजपुरी एक हजार साल पुरानी भाषा है और यह इसे 25 करोड़ लोग बोलते हैं।

View this post on Instagram

#गोरखपुर

A post shared by Ravi Kishan (@ravikishann) on

कुछ लोग भोजपुरी गानों में अश्लीलता का इस्तेमाल कर इस भाषा की छवि धूमिल कर रहे हैं। मैं इसके खिलाफ संसद में कड़े कानून की मांग करूंगा और विशेष रूप से भोजपुरी भाषा के लिए उत्तर प्रदेश में सेंसर बोर्ड गठित करने के बारे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चर्चा करूंगा।’

Load More In मनोरंजन
Comments are closed.