1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. राहुल गाँधी ने तरुण गोगोई को दी श्रद्धांजलि, कहा- वह मेरे गुरु थे, यह मेरे लिए निजी क्षति

राहुल गाँधी ने तरुण गोगोई को दी श्रद्धांजलि, कहा- वह मेरे गुरु थे, यह मेरे लिए निजी क्षति

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन की खबर आई, उस वक्त राहुल गांधी असम में थे। वह पार्टी के दिग्गज नेता और असम के पूर्व सीएम तरुण गोगोई को श्रद्धांजलि दे रहे थे।

असम के सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहे तरुण गोगोई ने बीमारी से लंबे समय तक लड़ाई के बाद 23 नवंबर की शाम गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (जीएमसीएच) में अंतिम सांस ली। प्रार्थना सभा में राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने बुधवार सुबह एक और स्तंम्भ खो दिया।

राहुल गांधी ने तरुण गोगोई को याद करते हुए कहा, ‘उन्‍होंने असम और देश की सेवा की। मैंने गोगोई जी के साथ कई घंटे बिताए हैं। वह मेरे शिक्षक, मेरे गुरु थे। उन्होंने मुझे समझाया कि असम और यहां के लोगों का महत्व क्या है।

उन्होंने असम की सुंदरता से मेरा परिचय कराया।’ इस मौके पर तरुण गोगोई के बेटे गौरव गोगाई भी राहुल के साथ थे। राहुल गाँधी ने कहा, हमने आज सुबह एक और नेता खो गए हैं। अहमद जी कांग्रेस पार्टी के एक स्तंम्भ थे। इसलिए कांग्रेस पार्टी के लिए यह दुखद दिन है।

राहुल गांधी ने कहा, तरुण गोगोई के बेटे का नाम गौरव है, लेकिन तरुण गोगोई मुझे भी एक बेटे की तरह ही माना है। बेटे की तरह व्यवहार किया है। यह मेरे लिए एक व्यक्तिगत क्षति है। तरुण गोगोई ने हमेशा असम के बारे में बात की थी। जब मैंने उनके साथ बात करता था तो मुझे ऐसा लगता था जैसे मैं असम के साथ बात कर रहा हूं।

आप को बता दे कि असम के पूर्व सीएम तरुण गोगाई कोरोना के बाद की परेशानियों के चलते अस्‍पताल में भर्ती थे। बाद में 23 नवंबर को उनका निधन हो गया था। उनके निधन पर असम में तीन दिन के शोक की घोषणा की गई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...