1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. … अब अगर तीन किमी की रेंज में उड़ता हुआ दिखाई देगा ड्रोन तो तुरंत कर दिया जायेगा नष्ट, प्राइवेट हेलीकॉप्टर पर भी रोक, जानिए कारण

… अब अगर तीन किमी की रेंज में उड़ता हुआ दिखाई देगा ड्रोन तो तुरंत कर दिया जायेगा नष्ट, प्राइवेट हेलीकॉप्टर पर भी रोक, जानिए कारण

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान पिछले कुछ दिनों से लगातार भारतीय सीमा में ड्रोन के जरिये घुसपैठ करने की कोशिश कर रहा था, जिसमें वो कई बार कामयाब भी हुआ। इस संदिग्ध गतविधि को लेकर भारत सरकार और सुरक्षा दल लगातार सख्त कदम उठा रहे है। अब इसी कदम को लेकर नेवी वेस्टर्न कमांड ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा है कि अब अगर तीन किमी की रेंज में कोई भी ड्रोन उड़ता हुआ दिखाई दिया तो उसे तुरंत नष्ट कर दिया जाएगा। साथ ही प्राइवेट हेलीकॉप्टर उडान पर भी रोक लगा दी गई है।

आपको बता दें कि इस इलाके में ड्रोन या प्राइवेट जहाज की उड़ान करने से पहले DGCA की इजाजत जरुरी है। DGCA के परमिशन लेटर एक हफ्ते WNC को देना होगा। बता दें कि नेवी वेस्टर्न कमांड का हेड क्वार्टर मुंबई में स्थित है। वेस्टर्न कमांड ने साफ हिदायत दी है कि हेडक्वार्टर के तीन किमी के दायरे में अगर कोई भी ड्रोन मिलता है तो नेवी उसे नष्ट कर देगी। सूत्र बता रहे हैं कि कुछ संदिग्ध गतिविधि का संकेत मिला है जिसके आधार पर ये फैसला लिया गया है। गौरतलब है कि मुंबई पुलिस ने पहले ही ड्रोन पर प्रतिबंध लगा रखा है। मुंबई के आसमान में ड्रोन उड़ाना कानूनी पर अपराध है। नियम का उल्लंघन करने पर कार्रवाई होती है।

नौसेना ने कहा कि, “उड़ान परिचालन के कार्यक्रम से कम से कम एक हफ्ते पहले नागर विमान महानिदेशालय (डीजीसीए) की वेबसाइट से उसकी मंजूरी लेनी होगी और मंजूरी पत्र की प्रति यहां पश्चिमी नौसेना कमान को सौंपी जानी चाहिए। सभी लोगों या असैन्य एजेंसियों को किसी भी कारण से क्षेत्र के अंदर ड्रोन उड़ाने से निषिद्ध किया जाता है। इनमें से ज्यादातर पाबंदियां पहले से लागू हैं लेकिन 27 जून को जम्मू में वायुसेना के एक तकनीकी हवाईअड्डे पर हुए ड्रोन हमले के बाद इन सख्त नियमों को दोहराया जा रहा है।”

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads