1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. पैंगोंग त्सो की तरह अब डेपसांग में भी भारत की पैट्रोलिंग रोकने की कोशिश में चीन

पैंगोंग त्सो की तरह अब डेपसांग में भी भारत की पैट्रोलिंग रोकने की कोशिश में चीन

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

पूर्वी लद्दाख के पैंगोंग त्सो की तरह चीन अब डेपसांग के वाई जंक्शन पर भी सैन्य जमावड़ा कर उत्तरी लद्दाख से गुजरने वाली वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के अति संवेदनशील इलाके में भारत की गश्त पर अंकुश लगाने की फिराक में है।

अगर चीन को नहीं रोका गया तो उसके वाई जंक्शन पर रहते हुए उसकी सेना पेट्रोलिंग प्वाइंट-10 (पीपी-10) से पेट्रोलिंग प्वाइंट-13 तक अवरोध पैदा करेगी। यह इलाका भारत के तरफ है। चीन ने ऐसा ही पैंगोंग त्सो के भारतीय कब्जे वाले फिंगर-4 से फिंगर-8 तक इलाके में किया है।

डेपसांग वाई जंक्शन से दौलत बेग ओल्डी (डीओबी) 30 किमोमीटर है। यहीं, भारतीय वायुसेना का बेस और सेना का महत्वपूर्ण ठिकाना है।अगर चीन पीपी10 और 13 के बीच अतिक्रमण करता है तो डीओबी से सिर्फ सात किमी दूर तक पहुंचकर और मजबूत हो सकता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...