Home देश लालू यादव की बेटी ने बदला अपना धर्म!, ट्वीट कर कह दी ऐसी बात..भड़के लोग होने लगीं ट्रोल

लालू यादव की बेटी ने बदला अपना धर्म!, ट्वीट कर कह दी ऐसी बात..भड़के लोग होने लगीं ट्रोल

2 second read
0
649

नई दिल्ली : बिहार के चर्चित चारा घोटाले में सजा काट रहे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ सुधार और जेल से रिहाई के लिए उनकी दूसरी बेटी रोहिणी आचार्य ने धर्म परिवर्तन कर लिया है, जिसे लेकर अब वो रोजा भी रखने जा रही है। जो बातें हम नहीं उनकी ये ट्वीट कह रही है।

गौरतलब है कि रोहिणी आचार्य ने रमजान शुरू होन से पहले ट्वीट कर कहा था कि ”कल से रमज़ान का पाक महीना शुरू हो रहा है! इस साल हमने भी फैसला किया है कि पूरे महीने अपने पापा के सेहतयाबी और सलामती के लिए रोज़े रखूंगी! पापा की हालत में सुधार हो और जल्दी न्याय मिल सके इसकी भी दुआ करूँगी”! साथ ही मुल्क में अमन चैन हो इसलिए ईश्वर / अल्लाह से कामना करूँगी।

आपको बता दें कि रोहिणी के इस ट्वीट के बाद जमकर उनकी आलोचना हो गई, जिसे लेकर वो ट्रोलरों के भी निशाने पर आ गई। लगातार ट्रोल होने के बाद उन्हें ये एहसास हुआ कि वे किसी भी धर्म से पहले हिन्दु धर्म से ताल्लुक रखती है। इसके बाद उन्होंने फिर से ट्वीट कर कहा कि- साथ में चैती नवरात्र भी है, मेरे अंदर इतनी हिम्मत है कि मैं दोनों पावन पर्व पूरी निष्ठा के साथ पूरा कर सकती हूं! मुझे किसी ज़हरीले परवरिश की नफ़रती सोच से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता। आप सभी को चैती नवरात्र की भी हार्दिक शुभकामनाएं।

अब आप समझ सकते है कि जिस रोहिणी की परवरिश हिन्दू धर्म में हुई थी, वो अब अपने उस धर्म को भूला चुकी है। जो उन्हें ट्रोलरों से ट्रोल होने के बाद याद आया। वहीं बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने रोहिणी आचार्य के इस ऐलान के बाद निशाना साधा, उन्होंने ट्वीट कर कहा कि- आज जमानत पर उनकी रिहाई के लिए परिवार के जो सदस्य व्रत और रोजा, दोनों रखने करने की बात कर रहे हैं, वे दरअसल किसी भी उपासना पद्धिति के प्रति ईमानदार नहीं हैं। उससे कुछ होने वाला नहीं। लालू परिवार सत्ता और सम्पत्ति के लिए ईश्वर- छठी मइया और अल्ला को भी धोखा देने की कोशिश करता रहा। लालू प्रसाद न ठीक से हिंदू हो पाये, न इस्लाम की शिक्षा ग्रहण कर पाये। कोई भी धर्म गरीबों-दलितों को सताने की इजाजत नहीं देता। उन्हें न्यायिक प्रक्रिया की तरह जो सजा मिली है, उसे पूरा कर अपने किये का प्रायश्चित करना चाहिए।

बता दें कि रोहणी लालू यादव की दूसरे नंबर की बेटी हैं। रोहणी ने एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर समरेश सिंह से शादी की है। जो विदेश में नौकरी करता है, रोहिणी अपने 3 बच्चे और पति के साथ सिंगापुर में रहती हैं।

रोहणी ने जमशेदपुर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस कोर्स किया हुआ है। लेकिन उन्होंने डॉक्टरी की प्रेक्ट्रिस नहीं की है। उनकी शादी 7 जून 2000 को पटना से हुआ था। बताया जाता है कि उनकी बारात में करीब 25 हाजार बाराती आए हुए थे। और जहां रहीं बात उनके धर्मपरिवर्तन की उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया है।

आपको बता दें कि कोरोना के कहर के बीच मुस्लिम समुदाय का पवित्र माने जाने वाला रमजान का महीना शुरू हो गया है। इस पूरे माह रोजे रखे जाते हैं और अल्लाह की इबादत की जाती है। कहते हैं जो दिल से मांगता है उसकी दुआ जरूर पूरी होती है। और अपने इसी आस्था को लेकर लालू यादव की दूसरी बेटी रोहिणी आचार्य ने अपने पिता के स्वास्थ्य में सुधार और जेल से रिहा होने के लिए रोजा रखने का फैसला लिया है।

Load More In देश
Comments are closed.