Home देश ट्विटर को पीछे छोड़ेगा भारतीय एप ‘कू’, जानें ‘कू’ एप के फायदे

ट्विटर को पीछे छोड़ेगा भारतीय एप ‘कू’, जानें ‘कू’ एप के फायदे

0 second read
0
5

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी 

नई दिल्ली : अमेरिकी कंपनी ट्विटर और भारत सरकार के बीच टकराव जारी है । इसी बीच उम्मीद ये जतायी जा रही है कि इस टकराव के भारतीय एप ‘कू’ को फायदा मिल सकता हैं । आईटी मंत्रालय ने भी इस संबंध में बयान जारी किया है । उन्होंने स्वदेशी नेटवर्किंग साइट ‘कू’ पर एक बयान जारी करते हुए कहा कि ‘कुछ अकाउंट को बंद करने के मुद्दे पर बैठक का अनुरोध अमेरिकी कंपनी ट्विटर की ओर से किया गया था और मंत्रालय की ओर से सचिव ट्विटर के वरिष्ठ प्रबंधन से बात करने वाले थे, लेकिन इस वार्ता से पहले ही ब्लॉग पोस्ट करना असामान्य है ।

मंत्रालय ने कू एप को लेकर कहा कि, ”कू” एक भारतीय कंपनी है, जो ट्विटर को टक्कर दे रही है । मंत्रालय के बयान के बाद करीब 48 घंटे में ही 30 लाख लोगो ने अपने एंड्राइड फोन में ‘कू’ डाउनलोड किया । जिन्होंने यह एप डाउनलोड किया है । उनमें कई बड़े नाम शामिल हैं । जिनमें रेलमंत्री पीयूष गोयल, भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा, आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय हैं। बता दें पिछले साल ही ‘कू’ एप लांच हो गया था । इस एप को आत्मनिर्भर भारत के तहत लाया गया है । भारतीय एप कू में ट्वीटर की तरह ही फीचर्स हैं ।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने 1178 अकाउंट की एक अन्य सूची ट्विटर को सौंपी थी । जिनके खालिस्तान और पाकिस्तान से जुड़े होने की आशंका थी । इनमें से 583 अकाउंट को निलंबित किया गया है । हालांकि, ट्विटर ने जिन अकाउंट के खिलाफ कार्रवाई की है, उनकी जानकारी नहीं दी है । मालूम हो कि केंद्र सरकार ने ट्विटर को साफतौर पर कहा है कि ट्विटर कंपनी को भारतीय कानून का पालन करना ही होगा । बीतें दिन देश में हैशटैग बैन ट्विटर और हैशटैग ‘कूएप’ ट्रेंड करता रहा ।

Load More In देश
Comments are closed.