Home उत्तराखंड किसी को फटी जींस पहननी ही है तो वह पहनें, मेरे बयान से किसी का दिल दुखा है तो उसके लिए माफी मांगता हूं: CM रावत

किसी को फटी जींस पहननी ही है तो वह पहनें, मेरे बयान से किसी का दिल दुखा है तो उसके लिए माफी मांगता हूं: CM रावत

34 second read
0
17

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

देहरादून: सोशल मीडिया पर उस वक्त हड़कंप मच गया, जब उत्तराखंड के नये नवेले मुख्यमंत्री ने जींस को लेकर एक अटपटा बयान दे दिया। मुख्यमंत्री जी मानना था कि उनका बयान संस्कारों को और मजबूत करेगा। लेकिन उनको क्या पता था कि बदलते वक्त के साथ लोगों ने अपनी “सोच” भी बदल ली है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को महिलाओं के फटी जींस पहनने को लेकर एक टिप्पणी की थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि ये कैसे संस्कार हैं। इस दौरान सीएम तीरथ रावत ने युवाओं के पश्चिम सभ्यता की ओर आकर्षित होने और संस्कार सीखने को लेकर भी बयान दिया था। जिसे लेकर लगातार बवाल छिड़ा हुआ है।

सीएम का ये बयान देश की बेटियों को रास नहीं आया और उन्होने सोशल मीडिया पर सीएम के खिलाफ लगातार ट्रेंड चलाना शुरु कर दिया। आपको बता दें कि सीएम के इस बयान पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने विरोध करते हुए ट्वीट किया, वही शिवसेना की राज्यसभा सांसद प्रियांका चतुर्वेदी ने भी सीएम के बयान का विरोध किया। उन्होने राज्य के सामने कहा कि ये हमारा राज्य सभा है, मैं यहां की सांसद हूं, ये मेरा परिधान है, कभी-कभी जिंस भी पहनती हू।

वहीं दूसरी ओर बॉलीवुड की अभिनेत्रियों ने भी सीएम के बयान को लेकर विरोध किया। इसमें गुल पनाग, अमिताभ बच्चन पोती नव्या, के अलावा कई बॉलीवुड की अभिनेत्रियों ने सीएम रावत के बयान का विरोध किया। अभी दो दिन ही बीते थे कि सीएम रावत को समझ आ गया कि कहीं न कहीं उनसे गलती हो गई है। शुक्रवार को रावत ने अपने बयान पर माफी मांते हुए कहा कि “अगर किसी को फटी जींस पहननी ही है तो वह पहनें। उनके बयान से किसी का दिल दुखा है तो वह उसके लिए माफी मांगते हैं।“ आपको बता दें कि सीएम रावत ने मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में ये बात कही है।

 

Load More In उत्तराखंड
Comments are closed.