1. हिन्दी समाचार
  2. Madhya Pradesh
  3. ऊंची जात की लड़की से प्यार करना पड़ा इस लड़के को भारी, बेरहमी से पीटा..गंजा किया और जूतों की माला पहनाकर…

ऊंची जात की लड़की से प्यार करना पड़ा इस लड़के को भारी, बेरहमी से पीटा..गंजा किया और जूतों की माला पहनाकर…

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : आरक्षण को लेकर लगातार देश के सामने कई बड़ी समस्या उत्पन्न हो रही है, कभी आरक्षण को लेकर सामान्य जाति के लोग अपने से निचली जाति का अपमान करते है, तो कभी प्रतियोगी परीक्षा में लागू आरक्षण का विरोध करते है। विरोध करें भी क्यूं न कि क्योंकि उन्हें यकीन है कि एक प्रतिष्ठित पद उनसे कम योग्यता वाले विद्यार्थी को दी गई है और उनका हक मारा गया है। वहीं दूसरी ओर आरक्षण का लाभ ले रहें लोग समाज में हेय दृष्टि का शिकार हो रहे है और उन्हें अभी भी समाज में वो सम्मान नहीं मिल रहा, जो किसी अन्य सम्मान जाति के वर्ग को मिलता है। इससे वे खुद कुंठित महसूस करते है और वहीं कई समाज सुधारक अपना हथियार।

मध्य प्रदेश के जबलपुर से एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक दलित युवक को ऊंची जाति की लड़की से प्यार करना भारी पड़ गया। उसने शायद सोचा भी नहीं होगा कि उसके साथ कुछ ऐसा होगा। क्योंकि वो आधुनिक युग में रहता है और अन्य लोगों की ही तरह वह खुद भी आरक्षण की बेड़ियां तोड़ना चाहता है, बशर्ते उसे वो सम्मान मिलें, जो अन्य लोगों को मिलता है।

हालांकि इस सोच से अलग, लड़की के परिजनों ने युवक का सिर मूंडकर और गले में जूतों की माला पहनाकर सजा दी। इतना ही नहीं उसकी पूरे शहर में जुलूस भी निकाला। बता दें कि इस मामले में पुलिस ने शिकायत के 24 घंटे बाद ही  चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

सोशल मीडिया पर भी वायरल किया वीडियो

दरअसल, हैरान कर देने वाली यह घटना चरगंवा थाना क्षेत्र के दामन खमरिया गांव से सामने आई है। जहां राज कुमार देहरिया ने पुलिस में दी अपनी शिकायत में कहा कि वह जिस लड़की से प्यार करता था, उसके घरवालों ने मेरे साथ इस तरह का व्यवहार किया है। इतना ही नहीं उन्होंने यह सब करते हुए मेरा वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर शेयर भी किया।

युवक ने बताई आपबीती

युवक ने बताया कि पहले लड़की के पिता ने मुझे फोन करके अपने घर बुलाया। मुझे लगा कि वह किसी काम से बुला रहे हैं। इसलिए मैं अपने दोस्त के साथ वहां पहुंच गया। लेकिन जैसे ही में पहुंचा तो मुझे गाली देने लगे और बेरहमी से पीटने लगे। मेरे साथ दोस्त को भी पीटा गया। इसके बाद चप्पल-जूतों की माला भी पहनाई गई और पीटते हुए मेरा पूरे गांव में जुलूस भी निकाला गया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads