1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. पूर्व विधायक मनीष रावत भाजपा में हुए शामिल, पढ़ें पूरी खबर..

पूर्व विधायक मनीष रावत भाजपा में हुए शामिल, पढ़ें पूरी खबर..

उत्तर प्रदेश में विधनासभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के 12 दिन पहले तक नेताओं के पाला बदलने का सिलसिला जारी है। लखनऊ में शनिवार को बहुजन समाज पार्टी के साथ ही समाजवादी पार्टी के नेता अपने समर्थकों के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। इनको बीजेपी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने पार्टी की सदस्यता दिलाई।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

उत्तर प्रदेश में विधनासभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के 12 दिन पहले तक नेताओं के पाला बदलने का सिलसिला जारी है। लखनऊ में शनिवार को बहुजन समाज पार्टी के साथ ही समाजवादी पार्टी के नेता अपने समर्थकों के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। इनको बीजेपी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने पार्टी की सदस्यता दिलाई।

भारतीय जनता पार्टी की रामप्रकाश गुप्ता की सरकार में राज्य मंत्री और मायावती की सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे रंगनाथ मिश्रा भदोही की औराई से विधायक हुआ करते थे। बीते दिनों वह भाजपा के नेताओं के साथ काफी सक्रिय थे। रंगनाथ मिश्र के साथ भदोही के उनके समर्थकों ने भी भाजपा की सदस्यता ली है।

रंगनाथ मिश्र के अलावा समाजवादी पार्टी से विधायक रहे मनीष रावत ने भी शनिवार को भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। मनीष रावत सीतापुर के सिधौली से विधायक थे। सपा ने इस बार उनकी जगह पर बसपा से सपा में शामिल होने वाले हरगोविंद भार्गव को प्रत्याशी बनाया है।

समाजवादी पार्टी से टिकट कटने के बाद जनता के बीच में जाकर पूर्व विधायक मनीष रावत फूट-फूटकर रोए थे। उन्होंने सपा पर गंभीर आरोप लगाए। मनीष रावत बोले कि आखिरकार पैसा जीत ही गया और सिधौली की जनता की मेहनत हार गई। समाजवादी पार्टी ने मनीष रावत की सास लखनऊ के मोहनलालगंज से पूर्व सांसद सुशीला सरोज को मलिहाबाद से प्रत्याशी बनाया है।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...